अखाड़ा परिषद की बैठक कई अहम प्रस्ताव पर हुई चर्चा

Share

साधु संतों की सर्वोच्च संस्था अखाड़ा परिषद की निरंजनी अखाड़े में महत्वपूर्ण बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में सभी तेरह अखाड़ों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी का कहना है कि अखाड़ा परिषद की बैठक में दो मुख्य प्रस्ताव पास किए गए हैं ।

अखाड़ा परिषद की इस बैठक में कुंभ मेले को लेकर कोई प्रस्ताव पास नहीं किए गए। कल फिर कुंभ मेले को लेकर अखाड़ा परिषद की बैठक आयोजित की जाएगी। अखाड़ा परिषद अध्यक्ष नरेंद्र गिरी का कहना है कि इस बैठक में अखाड़ा परिषद के महामंत्री मौजूद नहीं थे, इसलिए कल एक बैठक अखाड़ा परिषद की की जाएगी ।

उसमें कुंभ मेले के प्रस्तावों को पास किया जाएगा वही राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट में सरकार द्वारा अखाड़ा परिषद के प्रतिनिधियों को भी शामिल किए जाने की एक बार अखाड़ा परिषद अध्यक्ष नरेंद्र जी ने फिर मांग की उनका कहना है कि इस ट्रस्ट में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष व महामंत्री को लिया जाए और जो तीन अन्य अखाड़े हैं।

बैठक में श्राइन बोर्ड का खुलकर विरोध किया महानिर्वाणी अखाड़े के सचिव रविंद्र पुरी का कहना है । कि श्राइन बोर्ड का सरकार द्वारा जो गठन किया जा रहा है, इसे क्षेत्रीय ब्राह्मण पंडा समाज जो मंदिरों क माध्यम से ही कार्य करते हैं। उसके सम्मान की रक्षा लिए अखाड़ा परिषद इसका पुरजोर विरोध कर रहा है। ही निर्मोही अखाड़े के वरिष्ठ संत धर्मदास का कहना है कि श्राइन बोर्ड की कोई जरूरत ही नहीं है इस मुद्दे को कांग्रेस द्वारा भी एक बार उठाया गया है। साधु संतों की पुरानी परंपरा चलती रहे यही धर्म है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *