यमुना एक्सप्रेसवे घोटाला अब CBI करेंगी मामले की जांच,पूर्व सीएओ समेत 20 अन्य पर केस दर्ज

Share

CBI अब यमुना एक्सप्रेसवे घोटाला मामले की जांच करेगी। जानकारी के मुताबिक अधिकारियों ने बताया कि एजेंसी ने अपनी प्राथमिकी में पूर्व सीईओ पी सी गुप्ता और 20 अन्य को नामजद कर लिया है।अधिकारियों के मुताबिक एजेंसी ने उत्तर प्रदेश सरकार की अनुशंसा के अनुरूप यह कदम उठाया है। सरकार ने यमुना एक्सप्रेसवे परियोजना के लिए मथुरा में बड़ी जमीनों की खरीद में हुई 126 करोड़ रुपये की कथित अनियमितताओं की जांच करने को कहा है।

राज्य सरकार का आरोप है कि तत्कालीन यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने यमुना एक्सप्रेसवे के लिए मथुरा के सात गांवों में 85 करोड़ रुपये में जमीन खरीदी थी जिससे राज्य सरकार को 126 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। सरकार ने यमुना एक्सप्रेसवे परियोजना के लिए मथुरा में बड़ी जमीनों की खरीद में हुई 126 करोड़ रुपये की कथित अनियमितताओं की जांच करने को कहा है।

बता दें कि पिछले साल सितंबर में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व महाप्रबंधक रविंद्र तोगड़ पर करोड़ों रुपए की धांधली के आरोप में आयकर विभाग ने उनके घर पर छापा मारा था।आयकर विभाग के लगभग 50 अधिकारी इस बड़ी कार्रवाई में जुटे थे।बताया जाता है कि रविंद्र तोगड़ ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के प्रॉपर्टी विभाग में तैनात थे और इंजीनियर यादव सिंह व पीसी गुप्ता के बेहद करीबी रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *