Home » Uncategorized » गरीबों के लिए गोण्डा विकास भवन में विशेष कैम्प का किया गया आयोजन

गरीबों के लिए गोण्डा विकास भवन में विशेष कैम्प का किया गया आयोजन

Listen to this article

गरीबों के लिए गोण्डा विकास भवन में विशेष कैम्प का किया गया आयोजन

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की पात्रता सूची में छूटे गरीबों के लिए आज गोण्डा विकास भवन में विशेष कैम्प का आयोजन किया गया। लगातार प्रधानमंत्री आवास योजना में आ रही गड़बड़ियों को देखते हुए जिला प्रशासन ने यहां कदम उठाया और कैम्प का आयोजन कर पात्र गरीब जनता जो इस योजना के तहत ग्राम प्रधान व भ्रष्ट अधिकारियों के मिली भगत से छूट गए थे। उन्हें लाभाविन्त किया जाएगा। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री आवास योजना में गरीबों को आवास आवंटन के नाम पर दस – दस हज़ार रुपये वसूले जा रहे थे और जो गरीब जनता 10 हजार रुपये देने में असमर्थ होती उनका नाम पात्रता सूची से हटा दिया जाता। इन्हीं को देखते हुए आज विकास भवन में विशेष कैम्प का आयोजन किया गया।आयोजित कैम्प में गोण्डा जिले के 16 ब्लॉकों से लगभग लाखों की संख्या में गरीब जनता यहाँ पहुँची। प्रशासन की उम्मीद से अधिक संख्या में लोग यहाँ पहुँचे, जिससे प्रशासन द्वारा की गई व्यवस्था घंटेभर में ही चरमरा गई। लगातार भीड़ बढ़ती देख तीन घंटे बाद ही विकास भवन के गेट को बंद कर दिया गया और गेट से आये हुए ग्रामीणों के आधार कार्ड जमा किया गया। इसी भीड़ में तरबगंज तहसील के गौहरा गांव से आवास पाने के लिए अपना आवेदन जमा करने आये ग्रामीण उमा शंकर पांडेय ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास के लिए आज यहाँ बुलाया गया था। जिसके लिए हम 200 रूपये किराये के लिए लेकर यहाँ पंहुचे थे। दुःख हमें इस बात का है कि हम 200 रुपये लौटाएंगे कैसे और उसे तो किराए में खर्च कर लिए है। ग्रामीण ने ये भी बताया कि फ़ार्म जमा नहीं हुआ और हमने ब्लॉक पर वापस भेज दिया गया। जिसके लिए हम शासन को जिम्मेदार मानते है कि हम यहाँ तक आये और हमारा नुकसान तो हुआ। लेकिन काम भी नही हुआ। वहीं कर्नलगंज तहसील के सोनहारा गांव से आयी ग्रामीण महिला सावित्री ने भी आक्रोश जताते हुए बताया कि फ़ार्म जमा नहीं हुआ, लेकिन सब लिख पढ़कर कंप्लीट है। प्रधान के ही कहने पर हम यहाँ आये थे और फार्म भी प्रधान को दे दिया है। जो परेशानी हमको पहले उठानी पड़ती थी उठानी पड़ेगी। पैसा कौड़ी खर्च करके आये, भूखे – प्यासे दिन-भर बैठें है और काम भी नहीं हुआ तो यही सब परेशानी है। इस दौरान पूरे शहर में जाम का माहौल रहा, आवास पाने की लालसा में लाखों लोग विकास भवन पहुँचे थे। जिससे जगह – जगह कई चौराहों पर जाम लग गया। इस कैम्प मेले आयोजन का नेतृत्व कर रही मुख्य विकास अधिकारी दिव्या मित्तल ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में पारदर्शिता के लिए इस कैम्प का आयोजन किया गया। गांव व ब्लॉक स्तर पर कार्य चल रहा है ,लेकिन लोगों में विश्वास जताने के लिए की प्रधान या कोई बेचोलिया आवास नही दिला सकता, इसलिए इस विशेष कैम्प का आयोजन किया गया। उम्मीद से आए अधिक लोगों की संख्या पर सीडीओ ने कहा की अभी तक हमारे पास लगभग पचास से ऊपर फार्म आ चुके हैं और अभी आ सकते है। लोगों के अधिक संख्या में आने की वजह से शहर में लगे जम के प्रश्न पर सीडीओ मित्तल ने बताया कि जब शुरुआत ने लोग आने लगे तो कही न कहीं कुछ जाम की परिस्थिति जरूर थी परंतु बहुत ही जल्दी वो परिस्थिति समाप्त हो गयी जब ये जनसैलाब सड़क पर आयेगा तो जाम की समस्या उत्पन्न होगी। आवास पाने की लालच में जंहा दूर – सुदूर ग्रामीण क्षेत्र से गरीब जनता इस उमस भरी गर्मी में पसीने से तर हो मुख्यालय स्थित विकास भवन के परिसर में लगे इस कैम्प में 100 -200 रुपये खर्च कर किसी तरह जंहा पँहुची और उसके बाद भी उनका काम नही हों सका।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *