बीजेपी ने रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार घोषित किया

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram
Listen to this article

बीजेपी ने रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार घोषित किया

बीजेपी ने रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार घोषित किया तो विपक्ष के साथ तल्खी फिर एकबार सामने आ गई। कांग्रेस ने बीजेपी पर आमसहमति का दिखावा करने का आरोप लगाते हुए कहा कि विपक्षी दलों के साथ बैठक के बाद वे अपना रुख साफ करेंगे। एक तरफ जहां एनडीए में शामिल शिवसेना ने अभी अपने पत्ते नहीं खोले हैं वहीं दूसरी बीजेडी जैसे गैरएनडीए दल भी कोविंद के नाम पर सहमत दिख रहे हैं। कोविंद के नाम के ऐलान की एकतरफा फैसला अगर बीजेपी ने किया है तो उसके पीछे वर्तमान समीकरणों का सीधा हाथ है। राष्ट्रपति चुनाव के लिए अगर इलेक्टोरल कॉलेज पर नजर डालें तो 57.85% समीकरण सत्ताधारी एनडीए के पक्ष में दिख रहे हैं। ऐसे में अगर विपक्ष अपना उम्मीदवार उतारता भी है तो जीत की संभावना कम ही है। राष्ट्रपति चुनाव के लिए अगर इलेक्टोरल कॉलेज में एनडीए के पक्ष में है 5,37,683 जो कि कुल का 48.93% पड़ता है। लेकिन टीआरएस, एआईएडीएमके, वाईएसआर कांग्रेस ने एनडीए उम्मीदवार को समर्थन देने का ऐलान किया है तो अब एनडीए के पक्ष में कुल 57.85% वोट हो जाते हैं। उड़ीसा के सीएम और बीजेडी चीफ नवीन पटनायक ने सोमवार शाम रामनाथ कोविंद की उम्मीदवारी के समर्थन का ऐलान किया। इससे एनडीए के पक्ष में 2.99% की और वृद्धि हो गई। हालांकि, विपक्ष की ओर से मीरा कुमार समेत कई नामों पर चर्चा की अटकलें हैं लेकिन यूपी के दो दलों बसपा और सपा के लिए कोविंद का विरोध करना मुश्किल हो सकता है। क्योंकि रामनाथ कोविंद दलिक समुदाय से आते हैं। बीजेपी के लिए उनकी उम्मीदवारी मास्टरस्ट्रोक साबित हो सकती है।

सपा और बसपा की ओर से कोविंद की उम्मीदवारी पर ठोस विरोध सामने नहीं आया है।  2019 चुनाव से पहले दलित उम्मीदवार का विरोध करता कोई भी दल नहीं दिखना चाहेगा। वहीं जेडीयू अध्यक्ष और बिहार के सीएम नीतीश कुमार का रुख भी कोविंद की उम्मीदवारी पर नरम दिख रहा है। रामनाथ कोविंद अभी बिहार के राज्यपाल हैं और नीतीश कुमार के साथ उनके अच्छे तालुक्कात रहे हैं। नीतीश कुमार ने कोविंद की उम्मीदवारी का स्वागत किया है हालांकि, समर्थन के मामले पर विपक्ष की बैठक के बाद फैसले की बात भी कही है। राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए के प्रत्याशी रामनाथ कोविंद के खिलाफ विपक्ष संयुक्त उम्मीदवार उतार सकता है। वाम दलों में सूत्रों ने सोमवार की रात यह बात कही। गैर-एनडीए दलों के 22 जून को इस मुद्दे पर चर्चा के लिए बैठक करने की उम्मीद है। सूत्रों के अनुसार पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुशील कुमार शिंदे, भारिपा बहुजन महासंघ के नेता और डॉ. बी आर अंबेडकर के पौत्र प्रकाश यशवंत अंबेडकर, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के पौत्र और सेवानिवृत नौकरशाह गोपालकृष्ण गांधी और कुछ अन्य नामों पर विपक्षी पार्टियां विचार कर रही हैं।

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram

और खबरें

Tejas

अपनी नई फिल्म तेजस के लिए आर्मी ट्रेनिंग ले रही है कंगना

Listen to this article

बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस कंगना रनोत आजकल अपनी नई फिल्म तेजस के

लिए काफ़ी चर्चाओं में है। अभी तेजस फिल्म की शूटिंग चल रही है और कंगना

इसमें एक महिला भारतीय वायुसेना ऑफिसर की भूमिका निभाने वाली है।

इस फिल्म के सेट से कंगना ने एक विडियो शेयर की थी जिसमें वो आर्मी की

ट्रेनिंग लेती नज़र आ रही थी। कंगना ने अपने इंस्टाग्राम और टिव्टर के अकांउट

में विडियो शेयर किया था जिसमें वो एक नेट पर चढ़ती हुई नज़र आ रही है। विडियो

शेयर करते हुए उन्होंने बताया कि वो आजकल तेजस फिल्म के लिए आर्मी ट्रेनिंग ले रही है।

वीडियो के साथ कंगना ने कैप्शन में लिखा, ‘‘ईर्ष्यालु केकड़े हमेशा हमें नीचे खींचने की कोशिश

करेंगे। लेकिन हमें ऊंचा और ऊंचा उठना होगा’’। आपको बता दे कि इस फिल्म का निर्देशन सर्वेश

मेवार कर रहे है। कुछ दिन पहले से ही इस फिल्म को लेकर कंगना रनोत काफी उत्साहित दिख रही

है उन्होंने इस पोस्ट से पहले भी एक पोस्ट शेयर की थी जिसमें उन्होंने आर्मी की ड्रेस की एक फोटो शेयर

की थी जिसमे लिखा हुआ था ‘तेजस गर्ल’। जल्द ही कंगना की कई फिल्मों में नज़र आने वाली है।

 

-मानवी कुकशाल

 

यह भी पढ़े-स्लाटर हाउस से मुक्त हुआ हरिद्वार जिला

Budget

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पेश किया पांचवां बजट

Listen to this article

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार ने गुरुवार के दिन 2021-22 के लिए 57,400.32

करोड़ रुपए का बजट पेश कर दिया है। जिसमें कृषि, पेयजल, पर्यावरण, से लेकर मनरेगा,

और स्वच्छ, भारत अभिआन के लिए भी बजट पेश किया गया। खास कर त्रिवेंद्र सरकार ने

विकास के कामों पर ज्यादा ध्यान देते हुए सड़कों व पुलों के निर्माण लोक निर्माण कामों के लिए

2369 करोड़ बजट रखा गया है। कक्षा 01 से 8वीं तक सभी विद्यार्थियों को मुफ्त जूता और स्कूल

बैक देने के लिए भी कहा हैं। जिसमें राजस्व प्राप्तियां 44,151.24 करोड रूपये अनुमान लगाए हैं।

20,195.43 करोड़ और तथा करेत्तर राजस्व से 23,995.81 करोड़ रूपये अनुमानित है। बजट में

राजस्व व्यय 44,036.31 करोड रुपये जबकि पूंजीगत व्यय 13,364.01 करोड रुपये रहने का

अनुमानित रखा गया है। राज्य सरकार के वेतन भत्तों के लिये 16,422.51 करोड रुपये के व्यय का

प्रावधान किया गया है जबकि पेशन  और लाभों पर व्यय 6,400.19 करोड का व्यय अनुमानित है।

ब्याज के भुगतान पर 60,052.19 करोड जबकि कर्ज के भुगतान पर 4241.57 करोड प्रस्तावित है।

बजट में राजस्व घाटा अनुमान नहीं लगाया है। लेकिन राजकोषीय घाटा 8984 करोड़ रू तथा 2931.90

करोड रूपये के प्रारंभिक घाटे का अनुमानित किया गया है। बजट में सर्वाधिक 29.58 फीसदी व्यय

वेतन भत्तों और मजदूरी पर प्रस्तावित है तथा इसके बाद अन्य व्ययों पर 15.79 % विकास कामों पर

15.01 फीसद और पेंशन आदि पर 13. 03 प्रतिशत खर्च किया जाना है। बजट में सबसे अधिक प्राप्तियां

केन्द्र सरकार की सहायता अनुदान से आकलित है जिसका हिस्सा 35.83 प्रतिशत है। बजट में कृषि कार्य

एवं अनुसंधान के लिए 1,108 करोड रू चिकित्सा एवं परिवार कल्याण के लिए 3,188 करोड़ रू का प्रावधान किया गया है।

 

 

मीना छेत्री

 

यह भी पढ़े-चुनाव को लेकर संजय राउत का बड़ा बयान

Chunav

चुनाव को लेकर संजय राउत का बड़ा बयान

Listen to this article

शिवसेना ने बड़ा फैसला लियाकि वह पश्चिम बंगाल मेंचुनाव नहीं लेड़ेगें।

इस बात की जानकारी संजय राउत ने अपने  ट्वीट के जरिए दी।

उहोंने कहा कि शिवसेना के  पार्टी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के साथ चर्चा के बाद ये अहम निर्णय लिया गया है।

यही नहीं पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी को बंगाल की शेरनी बताते हुए संजय राउत ने लिखा है

शिवसेना एकजुटता से उनके साथ खड़ी है। उन्होने ये ट्वीट करके सभी को हैरान कर दिया है।

चुनाव ना लड़ने के फैसले के साथ-साथ उहोंने ममता बनर्जी की तारिफ की औरशुभकानाएं भी दी।

27 मार्च से होंगे पश्चिम बंगाल में चुनाव

पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में चुनाव होनें हैं। चुनाव 27 मार्च से 29 अप्रैल तक चलेगा

और इस चुनाव की मतगणना 2 मई को की जाएगी।

आयोग के अनुसार मतदान इस तरह से होंगे चुनाव 27 मार्च, 1 अप्रैल, 6 अप्रैल, 10 अप्रैल,

17 अप्रैल, 22 अप्रैल, 26 अप्रैल, 29 अप्रैल को होगें।

 

मीना क्षेत्री

 

यह भी पढ़े-मसूरी पहुंचे आम आदमी पार्टी नेता राम निवास गोयल

bharti

दिल्ली हरियाणा उम्मीदवारों के लिए खुशखबरी

Listen to this article

दिल्ली और हरियाण के उम्मीदारों के लिए सेना भर्ती का आयोजन किया जा रहा है।

हरियणा राज्य के फरीदाबाद, गुरूग्राम, मेवात नेहू और पलव जिलों में होगा। दिल्ली कैंट स्थित सेना भर्ती कार्यालय द्वारा जारी

भर्ती अधिसूचना के अनुसार हिमाचल प्रदेश के उना स्थित इंदिरा गांधी स्पोर्ट्स स्टेडियम में 18 मार्च से 25 मार्च तक रैली का आयोजन किया जाना है।

ये सेना भर्ती डी फार्मा कटेगरी के लिए आयोजित की जानी है।

रैली में भाग लेने के इच्छुक उम्मीदवार को इंडियन आर्मी के निर्धारित अप्लीकेशन पोर्टल joinindianarmy.nic.in पर जाकर

रजिस्ट्रेशन करना होगा। उम्मीदवार पोर्टल पर 13 मार्च तक रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

ये भर्ती उन छात्रों के लिए है जिंहोने किसी मान्यता प्राप्त स्कूल से 12वीं परीक्षा पास की है।

अभ्यर्थी को डी फार्मा काउंसिल ऑफ इंडिया या किसी स्टेट फार्मा काउंसिल से न्यूनतम 55 प्रतिशत अंक होने जरूरी हैं।

हालांकी बीफार्मा से 50 प्रतिशत अंको से पास हुए छात्र भी इस भर्ती मे शामिल हो सकते है।

साथ ही प्रतिभागी की आयु 19 वर्ष से 25 होनी चाहिए।

 

मीना क्षेत्री

 

यह भी पढ़े-भारत ने पाकिस्तान को चार मार्च को पहला वलर्डकप हराया था।

Haridwar

स्लाटर हाउस से मुक्त हुआ हरिद्वार जिला

Listen to this article

उत्तराखंड विधानसभा में हरिद्वार जिले के नगर निगम, नगर निकाय,

नगर पालिका क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले स्लाटर हाउसन(पशु वधशाला)

पर रोक लगाए। बुधवार को शहरी विकास सचिव शैलेश बगौली ने इस

संबंध में अधिसूचना जारी की। हरिद्वार जिले में सभी नगर निगमों, नगर

पालिका परिषदों एवं नगर पंचायतों के क्षेत्रों को तत्काल प्रभाव से वधशालाविहीन

क्षेत्र घोषित किया गया है। संबंधित शहरी निकायों ने सुसंगत अधिनीयमों के तहत

स्लाटर हाउस के संचालन को दी गई। अनापत्तियों को निरस्त करने की सहर्ष स्वीकृति दी है।

हरिद्वार में पशु वधशाला का मामला लंबे समय से चल रहा है। हाईकोर्ट में भी इसे लेकर

याचिका दायर हुई थी। इस क्रम में शहरी विकास सचिव शैलेश बगोली ने हरिद्वार के निगम,

पालिका और पंचायत क्षेत्रों को वधशालाविहीन घोषित कर दिया। राज्यपाल ने उत्तर प्रदेश नगर

निगम अधिनियम, 1959 (उत्तराखंड राज्य में प्रवृत्त) की धारा 429-क और उत्तरप्रदेश नगर

पालिका परिषद अधिनियम 1916 की धारा 237-क में मिली शक्तियों

का उपयोग करते हुएअधिसूचना को मंजूरी दी है।

इस मामले में पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने इस संबंध में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र

सिंह रावत से अनुरोध किया था। वहीं क्षेत्रीय विधायकों ने बीती एक मार्च को

स्लाटर हाउस बंद करने के संबंध में मुख्यमंत्री को पत्र सौंपा था। पर्यटन मंत्री

सतपाल महाराज ने कहा कि धार्मिक आस्था के केंद्र हरिद्वार में स्लाटर हाउस

के निर्माण का कोई औचित्य नहीं है। उन्होंने कहा कि धर्मनगरी हरिद्वार देश की

आध्यात्मिक व सांस्कृतिक राजधानी है। यहां स्लाटर हाउस नहीं खोले जाने चाहिए।

 

 

-सोमिया कुटियाल

 

यह भी पढ़े-साइना :बैडमिंटन चैम्पियन के अंदाज में दिखी परिणीति चोपड़ा

 

protest,congress

लाठीचार्ज पर भड़की कांग्रेस कर रही धरना प्रदर्शन

Listen to this article

कांग्रेस का प्रदर्शन थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। नंदप्रयाग घाट पर सड़क के चौड़ीकरण पर आन्दोलन कर रहे

ग्रामीणों पर लाठीचार्ज किया गया था । इससे गुस्साये कांग्रेसी  लाठीचार्ज के विरुध्द धरना प्रदर्शन

कर रहे हैं। कांग्रेस के कार्यकताओं ने सरकार से लाठीचार्ज के लिए तुरन्त मॉफी मांगने को कहा ।

पुलिस द्वारा लाठीचार्ज से गुस्साये कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सुबह 10.30 बजे विधानसभा परिसर में सरकार के खिलाफ

नारेबाजी  करते हुए आये। साथ ही उन्होंने सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया ।

व अंततः वह विस परिसर की सीढ़ियों पर बैठ कर धरना देने के लिए बैठ गए ।

महिलाओं पर भी किया गया लाठीचार्ज

दिवालीखाल में महिलाओं पर भी लाठीचार्ज किया गया इस घटना से गुस्साये कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह

ने पुलिस द्वारा की गई इस हरकत को काफी शर्मनाक बताया । साथ ही नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदेशने कहा कि गाँव के लोग

यहाँ व्यक्तिगत मांग के लिए नहीं आये थे।

पुलिस को उनके साथ  ऐसा नहीं करना चाहिए था।

कांग्रेस कड़े शब्दों में इस घटना की निंदा करती है, जब तक सरकार इन आंदोलनकारियों

से माफी नहीं मांगेगी तब प्रदेश कांग्रेस इसी प्रकार से सड़कों पर प्रदर्शन करती रहेगी ।

साथ ही लाठीचार्च के समय मौजूद सम्बधित अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाए ।

 

प्रीति राणा

 

यह भी पढे़-साइना :बैडमिंटन चैम्पियन के अंदाज में दिखी परिणीति चोपड़ा