अमिताभ बच्चन ने मुंबई के जनरल हॉस्पिटल को दान किये 1.75 करोड़ रूपए

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram
Listen to this article

महानायक अमिताभ बच्चन ने सायन, मुंबई के लोकमान्य तिलक म्युनिसिपल जनरल हॉस्पिटल को हाईटेक वेंटिलेटर और कुछ अन्य मेडिकल इक्विपमेंट दान किए हैं। बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन (BMC) के मुताबिक, बिग बी ने जो इक्विपमेंट दान किए हैं, उनमें मॉनीटर्स, सी-आर्म इमेज इंटेंसिफायर और एक इन्फ्यूजन पंप शामिल है। वेंटिलेटर के अलावा ये सभी इक्विपमेंट्स करीब 1.75 करोड़ रुपए के बताए जा रहे हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, बिग बी द्वारा दिए गए वेंटिलेटर सर्जरी डिपार्टमेंट में लगाए गए हैं और इक्विपमेंट्स की मदद से करीब 30 पेशेंट्स का इलाज किया जा चुका है।

पिछले महीने गुरुद्वारे को दिए थे 2 करोड़ रुपए

कोरोना की पहली लहर से ही अमिताभ बच्चन लगातार प्रभावितों की मदद कर रहे हैं। पिछले महीने ही उन्होंने दिल्ली के गुरु तेगबहादुर कोविड केयर सेंटर को 2 करोड़ रुपए की सहायता राशि दी थी। इस डोनेशन की जानकारी दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने सोशल मीडिया पर दी थी और बच्चन का शुक्रिया अदा किया था।

पहली लहर से अब तक करीब 15 करोड़ की मदद

पिछले महीने बिग बी ने अपने ब्लॉग में बताया था कि कोरोना की पहली लहर से अब तक वे करीब 15 करोड़ रुपए का दान कर चुके हैं। उन्होंने लिखा था, “इस लड़ाई में कईयों ने योगदान दिया है और लगातार कर रहे हैं। लोगों को सिर्फ उन 2 करोड़ रुपए के बारे में पता है, जो मैंने दिल्ली के एक कोविड केयर सेंटर को दिए हैं। लेकिन जैसे-जैसे दिन गुजरते जाएंगे, मेरा योगदान लगभग 15 करोड़ रुपए होगा।”

बिग बी ने 2 अनाथ बच्चों की जिम्मेदारी भी ली

बिग बी ने अपने ब्लॉग में यह भी बताया था कि उन्होंने ऐसे दो बच्चों की जिम्मेदारी उठाने का फैसला भी लिया है, जिन्होंने कोविड के कारण अपने पैरेंट्स को खो दिया है। उनके मुताबिक, इन बच्चों को हैदराबाद के अनाथालय में रखा जाएगा और उनकी पहली से लेकर दसवीं तक की पढ़ाई का पूरा खर्च वे उठाएंगे। इतना ही नहीं, अगर दसवीं पूरी होने के बाद ये बच्चे प्रतिभाशाली निकलते हैं तो उनकी उच्चा शिक्षा का खर्च भी इन्हीं कंडीशंस के तहत उठाया जाएगा।

शिवानी

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram

और खबरें

कर्नाटक में मंत्रिमंडल विस्तार में आज 29 मंत्रियों ने ली शपथ

Listen to this article

कर्नाटक मे मंत्रिमंडल का विस्तार आज किया गया । बेंगलुरु स्थित राजभवन में राज्यपाल थावरचंद गहलोत ने  29 मंत्रियों को शपथ दिलाई । शपथ ग्रहण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई भी शामिल हुए थे। इन मंत्रीयो की पूरी लिस्ट आज सुबह ही राज्य के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई को मिली। मुख्यमंत्री ने स्वयं इसकी पुष्टि की और बताया, ‘नए मंत्रिमंडल में 29 मंत्रियों को शामिल किया जाएगा, किसी को भी उपमुख्यमंत्री पद पर नियुक्त नहीं किया जा रहा है।

आज सुबह आगे उन्होंने कहा की, ‘हमें आधिकारिक तौर पर मंत्री परिषद की लिस्ट मिल गई है। इनमें उन मंत्रियों के नाम शामिल हैं जो आज राजभवन में शपथ लेने वाले हैं। जानकारी दें दे की मुख्यमंत्री बोम्मई अपने मंत्रिमंडल के विस्तार पर भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के साथ विचार-विमर्श करने के लिए पिछले दो दिनों से दिल्ली में थे

 

 -रितिका चौहान

 

यह भी पढ़े- उत्तराखंड में कोरोना मरीजों के मामलो में आई कमी

मुख्यमंत्री योगी ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के साथ चर्चा की

Listen to this article

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार सुबह बलरामपुर देवीपाटन शक्तिपीठ में रात्रि विश्राम के बाद शक्तिपीठ का पूजन किया और फिर परिसर स्थित गौशाला गए। वहां उन्होंने गायों को हरा चारा खिलाकर गायों की सेवा की। इससे पहले रात में मुख्यमंत्री योगी ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के साथ स्थानीय जनप्रतिनिधियों और पार्टी पदाधिकारियों से चर्चा की। मुख्यमंत्री ने हिंदू जागरण मंच और विश्व हिंदू महासंघ के पदाधिकारियों से भी मुलाकात की और चर्चा की। मुख्यमंत्री बुधवार सुबह तुलसीपुर से गोरखपुर के लिए रवाना हुए।

मुख्यमंत्री योगी मंगलवार की शाम पहुंचे

शक्तिपीठ देवीपाटन मंदिर में प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार की शाम को पहुंचे। इससे पूर्व श्रावस्ती जिला के मुख्यालय भिनगा से लाइव प्रसारण के माध्यम से कलेक्ट्रेट एनआईसी सभागार में सभी विभागों के अधिकारियों ने सीएम का संबोधन सुना। अपने संबोधन में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने की दिशा में सभी अधिकारी कार्य करें। प्रदेश सरकार ने कोरोना महामारी को लेकर हर स्तर पर प्रयास किया कि जनहानि न होने पाए।

पुष्पा रावत

 

यह भी पढे़- वाराणसी कमिश्नरेट के अपर पुलिस आयुक्त समेत मिर्जापुर-आजमगढ़ के भी शामिल डीआईजी

बसपा सुप्रीमो मायावती ने दोषियों पर सख्त कार्रवाई की मांग

Listen to this article

बसपा सुप्रीमो मायावती ने दिल्ली कैंट के नांगल गांव में 9 साल की बच्ची से सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के मामले में दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कहा कि घटना बेहद दुखद और शर्मनाक है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि दिल्ली कैंट के नांगल गांव में 9 साल की एक दलित लड़की से बलात्कार के बाद उसकी नृशंस हत्या और उसके शव को जलाना बेहद दुखद और शर्मनाक है। बसपा की मांग है कि दोषियों के खिलाफ बिना देर किए सख्त कार्रवाई की जाए और ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति को रोकने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएं।

पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे

सामूहिक दुष्कर्म के बाद बच्ची की हत्या का मामला तूल पकड़ता जा रहा। मंगलवार को जहां पीड़ित बच्ची के परिजनों से मिलने के लिए कई पार्टियों के नेता पहुंचे, वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार सुबह पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे। उन्होंने परिवार के लोगों को अपनी गाड़ी में बिठाकर बात की। यह मुलाकात 10 मिनट से भी ज्यादा समय की रही।

परिवार से मिलने के बाद राहुल गांधी ने कहा, मैंने परिवार से बात की। उन्हें सिर्फ न्याय चाहिए और कुछ नहीं। उनकी मदद की जानी चाहिए। हम वह करेंगे। मैं उनके साथ खड़ा हूं। राहुल गांधी तब तक उनके साथ खड़ा है जब तक कि उन्हें न्याय नहीं मिल जाता।

पुष्पा रावत

 

यह भी पढ़े- दिल्ली में दुष्कर्म के मामलों में खेली जा रही राजनीति

शिक्षा मंत्रालय ने सभी स्कुलों मे NCC प्रशिक्षण की बनाई योजना

Listen to this article

केंद्र सरकार युवाओं में सेना और दुसरे सुरक्षा बलों के प्रती झुकाव बढ़ाने के लिए अब सभी माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कुलों को अनिवार्य NCC प्रशिक्षण से जोड़ने की तैयारी में है और इस दिशा मे काम शुरु हो गया है। जानकारी दी गई है की शिक्षा मंत्रालय ने इस योजना पर तेजी से काम शुरु कर दिया है। पहले चरण में देशभर के सभी केंद्रीय विधालय और नवोदय विधालयों मे इस प्रशिक्षण को शुरु किया जाएगा और राज्यों को इसकी तैयारी करने को कहा गया है । स्कूलों में NCC विंग के विस्तार की यह योजना नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति की सिफारिश के बाद बनाई गई है, जिसमें रक्षा मंत्रालय की मदद से राज्य सरकारों को इसके लिए प्रोत्साहित करने की बात कही गई है। इसके साथ ही कहा गया है कि इससे छात्रों की प्रतिभा की पहचान में मदद मिलेगी। इससे वह सेना और सुरक्षा बलों के साथ मिलकर अपने करियर को भी संवार सकेंगे।

शिक्षा मंत्रालय जुटा रहे जानकारी

जानकारी के अनुसार फिलहाल ऐसे सभी केंद्रीय विधालय और नवोदय विधालयों की जानकारी निकाली जा रही है जंहा मौजुद समय में NCC प्रशिक्षण की सुविधा नहीं है और जानकारी जुटाने को बाद सरकार जल्द ही रक्षा मंत्रालय के साथ मिलकर इसे मंजूरी ले सकती है

 

  -रितिका चौहान

 

यह भी पढे़- उत्तराखंड में मलिन बस्तियों के बचाव के लिए विधेयक लाने की घोषणा

देहरादून में ग्राफिक एरा में अब 10वीं के छात्र भी कर सकेंगे बीटेक

Listen to this article

ग्राफिक एरा ने अब हाइ स्कूल के बाद छात्र और छात्रों को सीधे बीटेक में दाखिला कर लेगें। इस साल में जो 10वीं पास कर चुके है उन्हें अब बीटेक में दाखिला मिल जाएगा। वंही ग्राफिक एरा एजुकेशनल ग्रुप के अध्यक्ष डा. कमल घनशाला ने बताया कि छात्र-छात्राओं को शुरुआत से ही उनकी रुचि के क्षेत्र में आगे बढ़ाने और प्रतिभा को ज्यादा बेहतर ढंग से निखार कर कुशल प्रोफेशनल बनाने के लिए ग्राफिक एरा ने यह कदम उठाया था।  स्कूली शिक्षा के दो वर्षों को इंजीनियरिंग की प्रोफेशनल और टेक्निकल शिक्षा से जोड़ने की यह पहल नए इंजीनियरों की नींव को मजबूत करेगी।

यह ग्राफिक एरा हिल यूनिवर्सिटी के देहरादून, भीमताल और हल्द्वानी परिसरों में यह सुविधा दी गई है। बीटेक में प्रवेश के लिए पहली ऑनलाइन काउंसिलिंग सात अगस्त को होगी। बीटेक कम्प्यूटर साइंस, सिविल, मैकेनिकल, आटोमोबाइल, बायोटेक, इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रोनिक्स एंड कम्युनिकेशन से भी अब आवेदन भर सकते है।

 

 – नैन्सी लोहानी  

 

यह भी पढ़े-  उत्तराखंड में महिलाओं का टीकाकरण अभियान आज से हुआ शुरु

 

तमिलनाडु ने केरल से आने वाले यात्रीयों के लिए RTPCR किया अनिवार्य

Listen to this article

केरल में कोरोना वायरस मामंलो में आई  तेजी से केंद्र सरकार के साथ साथ उसके पड़ोसी राज्यों  भी तमिलनाडु,कर्नाटक की चिंताएं भी बढ़ा दी है। तमिलनाडु ने एहतियात के तौर पर केरल से यात्रा करने वालों पर कुछ पाबंदियां लगा दी गई है । तमिलनाडु में केरल से आने वालों के लिए NEGATIVE RTPCR CERTIFICATE अनिवार्य कर दी गई है। तमिलनाडु के स्वास्थय विभाग ने कहा है की केरल राज्य में आने वाले सभी यात्रीयों को यात्रा से 72 घंटे पहले तक का NEGATIVE RTPCR रिपोर्ट या पूरी तरह से टिकाकरण प्रमाण पत्र को दिखाने की आवश्यकता होगा। कोरोना वायरस संक्रमण के केरल में बढ़ते मामलों के बीच तमिलनाडु सरकार ने बीते एक अगस्त को कहा था कि पड़ोसी राज्य से आने वाले लोगों के लिए 5 अगस्त से RTPCR जांच रिपोर्ट और टीके की दोनों खुराक का प्रमाणपत्र अनिवार्य कर दिया गया है।

केरल में नए मामले

तमिलनाडु के स्वास्थय मंत्री मा सुब्रमण्यम ने जानकारी देते हुए बताया की केरल में 20,000 से अधिक नए मामले सामने आए है और वंहा की POSITIVITY  रेट 10 प्रतिशत से ऊपर है। केरल में मंगलवार को कोरोना के 23,676 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 34.49 लाख हो गई।

 

    -रितिका चौहान

 

यह भी पढ़े- यूपी सरकार ने 16 अगस्त से स्कूल खोलने का दिए आदेश