Home » राष्ट्रीय » Anna Hazare’s के उठाये कदम सरकार पर पड़ सकते हैं भारी

Anna Hazare’s के उठाये कदम सरकार पर पड़ सकते हैं भारी

Anna Hazare's
Listen to this article

Anna Hazare’s तीन कृषि कानून के खिलाफ अनिश्चितकालीन अनशन नहीं करेंगे। बताया

जा रहा है कि केंद्र सरकार उनकी कुछ मांग को मानने के लिए तैयार हो गई है।

Anna Hazare’s से केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी और भाजपा नेता

एवं महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मुलाकात करने आए।

कृषि मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि हजारे द्वारा मनोनीत कुछ सदस्यों के

साथ एक उच्चस्तरीय बैठक की समिति रखेंगे। उसके बाद उनकी मांगो पर

विचार करेंगे। उसके बाद 6 महीने में उनको रिपोर्ट सौंप दी जाएगी।

 

Anna Hazare’s ने  क्या कहा

एक बयान के अनुसार Anna Hazare’s ने घोषणा कि थी कि वह आज महाराष्ट्र

के अपने गांव रालेगण सिध्दी में भूख हड़ताल शुरू करने वाले हैं ।

अन्ना हजारे ने कहा है कि कृषि कानून के विरोध में किसानों के आंदोलन पर

उन्होंने प्रधानमंत्री और केंद्रीय कृषि मंत्री को 5 बार पत्र लिखा था

लेकिन इस पत्र के अभी तक कोई जवाब नहीं आया।

अन्ना हजारे ने 29 जनवरी को कहा, “केंद्र सरकार ने मेरी कुछ मांगों पर सहमति

जताई है और किसानों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए एक समिति गठित

करने की भी घोषणा की है । मैंने शनिवार से शुरू हो रहे अपने प्रस्तावित

अनिश्चितकालीन अनशन को स्थगित करने का निर्णय किया है।”

 

सागरिका

 

यह भी पढ़ें-West Bengal: बी टीम कहने पर भड़के ओवैसी, साधा ममता पर निशाना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *