Home उत्तराखंड एसआइटी करेगी बीएम ऑटोसेल्स प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक से ठगी मामले की जांच

एसआइटी करेगी बीएम ऑटोसेल्स प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक से ठगी मामले की जांच

8 second read
0
0
33
Share

देहरादून में बीएम ऑटोसेल्स प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक सचिन अजमानी के खाते से 18 लाख 70 हजार रुपये उड़ाने के मामले की जांच अब एसआइटी करेगी। डीआईजी और एसएसपी देहरादून अरुण मोहन जोशी ने एसआइटी की कमान सीओ पल्लवी त्यागी को सौंपी है। साथ ही जल्द से जल्द जांच पूरी करने के निर्देश भी दे दिये हैं।

पुलिस के मुताबिक बीती 20 जुलाई को एसबीआइ की मोहब्बेवाला शाखा की प्रबंधक अंजली कुशवाहा ने पटेलनगर कोतवाली में धोखाधड़ी की तहरीर दी थी जिसमें बताया गया कि शाखा में सचिन अजमानी का खाता है। 20 जुलाई को एक अज्ञात शख्स ने बैंक प्रबंधक को कॉल कर खुद को सचिन अजमानी बताते हुए उनके खाते से वास्तविक समय सकल भुगतान (आरटीजीएस) के माध्यम से दो खातों में 18 लाख 70 हजार रुपये ट्रांसफर करा लिए थे। इसके लिए आरोपि ने बैंक प्रबंधक को दो चेक भेजने का झांसा भी दिया था। पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो पता चला कि जिस नंबर से बैंक प्रबंधक को फोन किया गया था, उसका इस्तेमाल पूर्व में आगरा और कानपुर में भी इसी प्रकार की धोखाधड़ी में किया जा चुका है। ऐसे में आशंका है कि इस घटना के पीछे किसी बड़े गिरोह का हाथ हो सकता है। इसलिए डीआइजी ने मामले की जांच के लिए एसआइटी का गठन किया है जिसमें सीओ पल्लवी त्यागी के अलावा इंस्पेक्टर देवेंद्र चौहान, सब इंस्पेक्टर जगत सिंह और सब इंस्पेक्टर विवेक भंडारी को शामिल किया गया है। जिन दो खातों में रुपये ट्रांसफर किए गए थे, साइबर सेल ने उनकी डिटेल निकालने के साथ खातों को होल्ड करा दिया है। इनमें से एक खाते में वर्तमान में लगभग 20 लाख रुपये जमा हैं, जिसके संबंध में जांच की जा रही है।

Load More Related Articles
Load More By HNN News Desk
Load More In उत्तराखंड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

बाराबंकी में कोरोना का कहर जारी, संक्रमित की संख्या बढ़कर हुई 1659

Share       उत्तर प्रदेश में तेजी से कोरोना संक्रमण के …