उत्तराखंड में होगी ‘इंटरनेट क्रांति’ घर-घर पहुंचेगा ब्रॉडबैंड

उत्तराखंड में होगी ‘इंटरनेट क्रांति’ घर-घर पहुंचेगा ब्रॉडबैंड
Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram

उत्तराखंड में इंटरनेट सुविधाओं का विस्तार करने के लिए घर-घर तक ब्रॉडबेंड की सुविधा प्रदान की जाएगी। केंद्र सरकार ने ब्रॉड मिशन के तहत घर-घर इंटरनेट कनेक्शन पहुंचने की पहल की है। इस मिशन के तहत सन 2022 तक राज्य के सभी गांवों में ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क (OFC) के जरिए ब्रॉडबैंड की सेवा उपलब्ध कराने का लक्ष्य तय किया है। उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों में संचार सुविधा दुरुस्त करने में ब्रॉड मिशन बेहद निर्णायक साबित होगा।

केंद्र सरकार ने इंटरनेट की भूमिका को देखते हुए देशभर में नेशनल ब्रॉडबैंड मिशन की शुरुआत की है। नेशनल ब्रॉडबैंड मिशन की निगरानी के लिए प्रदेश में  मुख्य सचिव की अध्यक्षता में ‘स्टेट ब्रॉडबैंड कमेटी’ का गठन किया गया है।

जानकारी के मुताबिक कमेटी की बैठक में राज्य में 2022  तक हर गांवो में ब्रॉडबैंड की उपलब्धता करना और औसत नेट स्पीड 50 एमबीपीएस तक ले जाने का लक्ष्य रखा गया। कमेटी ने 2022 तक राज्य के एक हजार शहरी कॉलोनियों में ब्रॉडबैंड कनेक्शन उपलब्ध कराने का भी निर्णय लिया है।

प्रदेश के मैदानी क्षेत्रों में इंटरनेट की सुविधा अच्छी है, मगर पर्वतीय क्षेत्रों में दुर्गम भूगोलिक स्थिति के चलते इंटरनेट की पहुंच सीमित है। प्रदेश में लगभर पांच सौ से जादा गांवों में मोबइल नेटवर्क उपलब्ध नहीं है। प्रदेश के कई पर्वतीय क्षेत्रों में इंटरनेट की औसत स्पीड 512

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पीएसी जवान ने शादी का झांसा देकर किया युवती से दुष्कर्म  

पीएसी जवान ने शादी का झांसा देकर किया युवती से दुष्कर्म  

उत्तरप्रदेश के कानपुर देहात के मंगलपुर थाना क्षेत्र के एक गांव

में युवती से पीएसी जवान ने शादी का झांसा देकर युवती से दुष्कर्म करता रहा ।

पीड़िता ने गुरुवार को पीएसी जवान के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई।

पीडिता ने बताया कि 2019 में जब वो बीए की परीक्षा दे रही थी,

तभी मंगलपुर के ही मलिकपुर अकौड़िया गांव निवासी सोनू कुमार उससे मिला था,

इसके बाद उन दोनों ने एक-दूसरे को नंबर दिया, एक-दूसरे से बात करने लग गए।

बीते 20 जून को वह उसके पड़ोसी की शादी में आया था,

जहां पीड़िता के परिवार वाले भी शादी समारोंह मे शामिल हुए थे।

जिस दौरान आरोपी सोनू उनके घर आया और चाय में कुछ नशीले तरह का

पदार्थ मिलाकर उसे पीला दिया जिससे पीड़िता बेहोश हो गई।

बेहोशी का लाभ उठाकर आरोपी ने पीड़िता के साथ दुष्कर्म किया। पीड़िता के होश में आने के बाद उसे शादी का झांसा दिया।

शादी का झांसा देने के बाद वह लगातार पीड़िता के साथ दुष्कर्म करता रहा।

आरोपी की पीएसी में नौकरी लगने के बाद उसने पीडिता से विवाह से इंनकार कर दिया।

आजकल आरोपी की ड्यूटी अयोध्या में लगी हुई है।

जानकारी के मुताबिक मंगलपुर थाना प्रभारी आमोद कुमार सिंह ने बताया कि

तहरीर पर पीएसी जवान के खिलाफ शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने की रिपोर्ट दर्ज की गई है।

 

यह भी पढें-UN ने सबसे खतरनाक ड्रग्स की सूची में से ‘वीड’ को हटाया

मुफ्त में चाय न पिलाने पर होमगार्ड पुलिस ने उठा लिया गैस सिलेंडर

होमगार्ड ने मुफ्त में चाय न पिलाने पर उठा लिया गैस सिलेंडर

होमगार्ड  ने  मुफ्त में चाय न पिलाने पर ढाबे वाले का गैस सिलेंडर उठा लिया

इससे अयोध्या की पुलिस पर एक बार फिर से सवाल खड़े हुए है।

जानकारी के मुताबिक बाराबंकी के अयोध्या हाईवे के दिलोना मोड़ पर ढाबा चलाने वाले संजय यादव

ने जब दो होमगार्ड को मुफ्त से चाय नहीं दी तो होमगार्ड ने वहां से गैस सिलेंडर उठा लिया।

संजय यादव ने बताया कि 10 बजे ढाबे पर पहुंचे तो दीवान जी ने 25 चाय मांगी जब

संजय यादव चाय के पैसे लेने गया तो होमगार्ड ने उसे पैसे देने से मना कर दिया।

दीवान वहां से दो होमगार्ड के साथ चला गया, थोड़ी देर होने के बाद दीवान सरकारी गाड़ी में आया

और अपनी नाराजगी दिखाने के लिए संजय यादव के ढाबे से सिलेड़ंर उठा के ले गया।

साथ ही दीवान ने कर्मचारी को घरेलू सिलेंडर व्यावसायिक में उपयोग करने का केस

दर्ज करने की धमकी दी। संजय यादव ने स्थानीय दीवान और  पुलिस  का ये

अभ्रदता वाला व्यवहार देख एसपी से कार्रवाई की गुहार लगाई है।

कोतवाल सच्चिदानंद राय ने बताया कि ढाबा संचालक की शिकायत की जांच करके कार्रवाई की जाएगी।

 

यह भी पढें-UN ने सबसे खतरनाक ड्रग्स की सूची में से ‘वीड’ को हटाया

शामली: ट्रक के पहिये से कुचकर मां बेटे की मौत

शामली: ट्रक के पहिये से कुचकर मां बेटे की मौत

उत्तरप्रदेश के शामली से एक दर्दनाक घटना सामने आई है।

मेरठ-करनाल हाईवे में एक ट्रक ने बाइक सवार मां-बेटे को मौत के घाट उतार दिया।

जानकारी के मुताबिक गुरुवार को मेरठ जिले के सरधना निवासी दानिश अपनी भाभी सलमा

और भतीजे शयान के साथ बाइक पर शामली गए थे।

शामली दिल्ली बस स्टैंड के पास दोपहर में  तीनों घर आ रहे थे,

शयान की तबीयत खराब होने के कारण शामली दिल्ली बस स्टैंड के पास स्थित निजी

चिकित्सक शयान को दवा दिलाने के बाद दोपहर में करीब ढाई बजे बाइक से तीनों घर को आ रहे थे,

कि  मेरठ करनाल हाईवे पर बुढ़ाना मोड़ तिराहे के निकट नर्सिंगहोम के निकट पहुंते ही आगे चल रहे बजरी

से भरे ट्रक को बाइक सवार ओवरटेक कर रहा था, कि अचानक बाइक ट्रक से जा भिड़ी

और बाइक सवार अपनी भाभी-भतीजे के साथ नीचे गिर गया।

जिसके कारण सलमा शयान ट्रक के पहिए के नीचे आ गए।

ट्रक का ड्राइवर हुआ  से फरार हो

खबरों के मुतबिक ट्रक का ड्राइवर वहां से फरार हो गया। सलमा और उसके बेटे की मौत उसी समय हो गई।

मृतक सलमा का देवर घायल है, हाईवें पर जाम लगने के कारण लोगों की वहा भीड़ लग गई।

स्थानीय लोगों द्वारा सूचना मिलने पर पुलिस घटना स्थल पर आई और बजरी से भरे ट्रक को कब्जे में ले लिया।

और घायल को निजी अस्पातल सीएचसी में भर्ती करा दिया है। दोनों मृतकों का शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

इस खबर को सुनकर दानिश के घर से कोहराम मच गया है। साथ ही दानिश के मामा की तरफ से पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करा दी है।

पुलिस की जांच जारी है । पुलिस का कहना है कि जल्द ही ट्रक ड्राइवर गिरफ्तार हो जाएगा।

 

यह भी पढें-UN ने सबसे खतरनाक ड्रग्स की सूची में से ‘वीड’ को हटाया

 

उत्तर प्रदेश: मेरठ में नहीं थम रहा कोरोना का कहर

उत्तर प्रदेश: मेरठ में नहीं थम रहा कोरोना का कहर

उत्तर प्रदेश के मेरठ  में गुरुवार को एक महिला की कोरोना से संक्रमित होने के कारण  मृत्यु हो गई।

मेरठ में आए दिन कोराना से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती ही जा रही है।

गुरुवार को मेरठ में कोराना के 222 नए मामले सामने आए हैं।

मृतक महिला की पहचान 34 वर्षीय परतापुर निवासी के तौर पर हुई है।

अब तक 378 मरीजों की मौत हो चुकी है।

संक्रमित मरीजों में मेडिकल स्टाफ समेत छह हेल्थ केयर वर्कर शामिल हैं।

कोरोना से संक्रमित मरीजों में मेडिकल स्टाफ समेत छह हेल्थ केयर वर्कर,

शिक्षक-शिक्षिका, घरेलू महिलाएं, सरकारी कर्मचारी  और विद्यार्थी आदि शामिल हैं।

मेरठ में सैपलों के हिसाब से करीब 3.4% मरीज पॉजिटिव आए हैं।

नए आंकड़ो के हिसाब से मरीजों की संख्या 18,371  हो गई है।

अभी 6,559 सैपलों की जांच होना बाकी है। 145 मरीज हॉस्पिटल से डिस्चार्ज हो चुके हैं।

इस तरह अब तक कोरोना में 15,782 मरीजों को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज करा दिया है।

मेरठ जिले में अब फिलहाल 2211 एक्टिव मरीज हैं और 1128 मरीज होम आइसोलेशन में है।

नए मरीज गंगानगर, शारदा रोड, मास्टर कॉलोनी, ब्रह्मपुरी, माधवपुरम, सिवाया, इस्लामाबाद, शास्त्री नगर, जागृति विहार,

सोमदत्त विहार, संजय नगर, टीपी नगर, कंकरखेड़ा, रामनगर, कसेरूखेड़ा, कसेरू बक्सर, वेद व्यास पुरी,

मानसरोवर, वैशाली कॉलोनी, पल्लवपुरम और विवेक विहार के रहने वाले हैं।

मेरठ के सेंट थॉमस स्कूल में अब कोई नहीं संक्रमित

गुरुवार को एक मैसेज वायरल हुआ है कि सेंट थॉमस इंग्लिश मीडियम स्कूल के दो शिक्षक

और अन्य स्टाफ के लोग कोरोना संक्रमित हो गए हैं, जब कि ये अफवाह थी।

दो शिक्षक और अन्य स्टाफ के लोग अक्टूबर में संक्रमित हो चुके थे, जो इलाज के दौरान ठीक हो गए हैं।

यह अफवाह जब प्रधानाचार्य के पास गयी तो उन्होंने एक पत्र जारी किया जिसमें

स्पष्ट रुप से लिखा गया है कि अब सेंट थॉमस स्कूल में काई कोरोना संक्रमित नहीं है।

 

यह भी पढें-Kangana के ख़िलाफ बॉम्बे हाई कोर्ट में एक और याचिका दायर

उत्तरप्रदेश: कसरत करना पड़ा युवक को भारी

उत्तरप्रदेश: कसरत करना पड़ा युवक को भारी

उत्तरप्रदेश के महाराजगंज में एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है।

जिम में कसरत करने के कारण एक युवक ने अपनी जान गंवाई।

कभी-कभी व्यायाम,जिम भी हमारे शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है। हमें नुकसान दे सकता है।

उत्तरप्रदेश  निवासी युवक  खुर्द में स्थित एक जिम सेंटर में रोजाना जिम करने जाता था

जानकारी के अनुसार उत्तरप्रदेश फरेंदा थाना क्षेत्र के गनेशपुर निवासी फिराज कम्हरिया खुर्द में स्थित एक जिम सेंटर में रोजाना जिम करने जाता था।

फिरोज 25 साल का था। 21 नवबंर को रोज की तरह फिरोज  जिम के लिए तैयार हो रहा था,

रोज की तरह जिम करते हुए अचानक से फिरोज नीचे गिर पड़ा।

मृतक के परिजनों ने तुरन्त फिरोज को उठाया और गोरखपुर के जिला अस्पातल में ले गए।

जहां उसकी हालत नाजुक देखते हुए उत्तरप्रदेश के  डॉक्टर ने फिरोज को लखनऊ के लिए रेफर कर दिया।

जहां डॉक्टरों की तमाम कोशिशों के बाद भी फिरोज ने बुधवार को दम तोड़ दिया।

जिसके बाद उसके घर में कोहराम मच गया।  इस खबर को सुनकर आसपास वालों के होश उड़ गए कि

कैसे कोई व्यक्ति जिम करने के कारण अपनी जान गंवा सकता है। फिरोज़ के परिवार वालों का बुरा हाल है।

पुलिस घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची।  जहां जिम के संचालक विवेक ने पूरी  घटना से पुलिस को अवगत कराया।

रिपोर्ट दर्ज होने के बाद  पुलिस ने आसपास के लोगों से भी पूछताछ शुरु कर दी है ।

 

यह भी पढें-मंगल में भारतीय वैज्ञानिक के साथ अमेरिकी टीम ने की नई खोज

आगरा: प्रधानमंत्री करेंगे मेट्रो रेल परियोजना का शिलान्यास

आगरा: प्रधानमंत्री करेंगे मेट्रो रेल परियोजना का शिलान्यास

उत्तरप्रदेश के आगरा में जल्द ही मेट्रो रेल का काम शुरु होने वाला है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 7 दिसबंर को वीसी के द्वारा आगरा में मेट्रो रेल परियोजना का शिलान्यास करेंगे।

ताजनगरी में मेट्रो का सपना पूरा होने जा रहा है।

दिल्ली जैसे बड़े शहरों में चलने वाली मेट्रो अब ताजनगरीमें भी फर्राटा भरेगी।

मेट्रो यात्रियों को ताजमहल का दीदार भी मेट्रो के सफर कराया जाएगा।

साथ ही  स्थानीय लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

ताजनगरी में पर्यटक काफी संख्या में पहुँचते है तो ऐसे में आगरा मेट्रो से पर्यटकों को भी काफी सहूलियत होगी.

आगरा के पीएसी ग्राउंड में शिलान्‍यास कार्यक्रम आयोजित होगा

वही आगरा के पीएसी ग्राउंड में शिलान्‍यास कार्यक्रम आयोजित होगा,

टीडीआई मॉल के पास मेट्रो की आधारशिला रखी जाएगी।

शहर में मेट्रो रेल आने से शहर में भारी जाम से निजात मिलेगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 7 दिसबंर को वर्चुअल के द्वारा आगरा में मेट्रो रेल परियोजना का शिलान्यास करेंगे,

इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल होंगे।

आवास विभाग एवं आगरा विकास प्राधिकरण की ओर से मेट्रो रेल परियोजना का शिलान्यस की तैयारियां शुरु कर दी गयी है।

मेट्रो का पहला कॉरिडोर ताज पूर्वी गेट से जामा मस्जिद तक तैयार होगा

प्रमुख सचिव आवास एवं नियोजन दीपक कुमार ने बताया कि प्रस्तावित डीपीआर के मुताबिक

आगरा में मेट्रो का पहला कॉरिडोर ताज पूर्वी गेट से जामा मस्जिद तक तैयार होगा।

ताजमहल पूर्वी गेट तक 14 किलोमीटर की पहली मेट्रो लाइन पर छह स्टेशनों का कॉरिडोर दिसंबर 2022 तक पूरा किया जाना है।

जानकारी के मुताबिक पीएसी ग्राउंड में प्रधानमंत्री के भाषण का लाइव प्रसारण किया जाएगा।

 

यह भी पढें-ब्रेक फेल होने से हुआ हादसा, ट्रक के परिचालक की मौत