मुख्यमंत्री योगी ने हेल्थ एटीएम की स्थापना प्राथमिकता से दिए निर्देश

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram
Listen to this article

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के सभी प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर प्राथमिकता के आधार पर हेल्थ एटीएम स्थापित के निर्देश दिए हैं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को इसके लिए रणनीति बनाने का निर्देश दिया है। वह रविवार को अपने आवास पर राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन के तहत स्वास्थ्य एप लांच करने के लिए आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे।उन्होंने कहा कि हेल्थ एटीएम की स्थापना के लिए जनप्रतिनिधियों व संस्थानों के सीएसआर आदि से सहयोग लिया जाए। हेल्थ एटीएम से प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में आसानी से जांच की सुविधाएं उपलब्ध हो सकेंगी। टेली कंसल्टेशन से दूरदराज के रोगियों को भी विशेषज्ञ चिकित्सकों का परामर्श आसानी से मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग शगुन किट का अभियान जनजन तक पहुंचाए। यह युवाओं को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक करने में सहायक होगा।

एप से घर बैठे मिलेगी अस्पताल की जानकारी

सीएम की ओर से लॉन्च किए गए एप की मदद से अब घर बैठे ही पता चल सकेगा कि किस अस्पताल में क्या दवाएं हैं और किस-किस विधा के डॉक्टर हैं। नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन के तहत प्रदेश में लॉन्च इस एप को अभी अधिकारियों तक सीमित रखा गया है। जल्द ही इसे आमजन के लिए उपलब्ध कराया जाएगा। एप में हर जिले के अस्पताल, स्टाफ, दवा सहित सभी तरह की सुविधाओं की जानकारी मिल सकेगी। शहर से लेकर गांव के अस्पतालों के डाटा से लैस इस एप से लोगों को सीधे तौर पर लाभ मिलेगा। प्रदेश के 25 हजार से अधिक स्वास्थ्य केंद्रों की डिजिटल मैपिंग करते हुए इसे तैयार किया गया है। इस पर सीएचसी, पीएचसी और सब सेंटर का डाटा देखा जा सकता है।

टीएफआर सहित अन्य मानक हासिल किए

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले 4 साल से राज्य में टोटल फर्टिलिटी रेट मैटरनल मॉर्टेलिटी रेशियो एवं इंफैंट मॉर्टेलिटी रेट को कम करने की दिशा में प्रयास किया गया है। 2016 में राज्य में टीएफआर 3.3 तथा राष्ट्रीय स्तर पर 2.6 था। वर्तमान में यह घटकर राज्य में 2.7 तथा राष्ट्रीय स्तर पर 2.3 हो गया है। इसी प्रकार 2016 में प्रदेश में एमएमआर 258 तथा राष्ट्रीय स्तर पर 178 था। वर्तमान में यह कम होकर राज्य में 197 तथा राष्ट्रीय स्तर पर 113 हो गया है। आईएमआर में भी कमी आई है।

पुष्पा राव

 

यह भी पढ़े- 10 सीटों पर मतदान के बाद भाजपा ने 7 और सीटों पर जीत हासिल की

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram

और खबरें

संसद में आज फिर पेगासस मुद्दे को लेकर हगांमा

Listen to this article

संसद में आज मानसून सप्ताह को 3 हफ्ते का 3 दिन है। पैगासस मुद्दे को लेकर आज भी संसद में हंगामा मचा हुआ है, राज्यसभा में विपक्षी संसदो ने पेगासस मुद्दे को लेकर नारेबाजी की इसके बाद राज्यसभा की कार्यवाही रद कर दी गई है संसद में कांग्रेस के विपक्षी नेता राज्यसभा सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे ने बोला है कि हम पहले पेगासस पर चर्चा करना चाहते हैं। और हम किसानों के मुद्दे, महंगाई, पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों और दूसरे मुद्दों पर भी चर्चा करने के लिए तैयार हैं।

सभी विपक्षी पार्टियां इसके लिए सहमत हैं। लेकिन दुर्भाग्य की बात यह है कि सरकार चर्चा करने के लिए तैयार नहीं है संसद में कांग्रेस के विपक्षी नेता राज्यसभा सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे ने बोला है कि राहुल गांधी गरीबों की समस्याओं के लिए प्रतिबंध्द हैं। तथा वह सभी राजनीतिक दलों को एक साथ लाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने उनसे अनुरोध किया कि वे हमारी स्वतंत्रता, संविधान और लोकतंत्र के हित में क्षेत्रीय राजनीति को भूल जाएं। हम पेगासस और अन्य मुद्दों पर चर्चा करना चाहते हैं। कि विपक्ष संसद को परेशान कर रहा है। जब वे (कांग्रेस) सत्ता में थे, लगभग 2 सत्र धुल गए उनके बड़े नेताओं ने कहा था कि यह व्यवधान जनता की रक्षा करता है।

राजदा राव

 

यह भी पढ़े- मिर्जापुर जिले में बरीदुबे गांव के पास रेलवे ट्रैक पर युवक का मिला शव

उत्तराखंड में कोरोना मरीजों के मामलो में आई कमी

Listen to this article

उत्तराखंड में इन 24 घंटे में 48 नए कोरोना  के मामले सामने आए हैं।  तथा वहीं देखा जाए तो 1 हफ्ते में एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है। हलांकि 38 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गयाऔर  कोरोना के मामलों की संख्या घटकर 581 तक पहुंच गई है।

 इन 4 जिलों मे एक भी कोरोना मरीज नही पाए गए

जानकारी के अनुसार, मंगलवार को 25445 कोरोना सैंपलों की जांच करने के बाद रिपोर्ट निगेटिव आई है।  4 जिलों में बागेश्वर, चंपावत, पौड़ी और टिहरी में एक भी करोना मरीज के मामले नहीं दिखाई दिए है, वहीं, अल्मोड़ा और ऊधमसिंह नगर में 2 मामले  चमोली और रुद्रप्रयाग में 6 मामले  देहरादून और पिथौरागढ़ में 18 मामले हरिद्वार में 11 मामले नैनीताल में 5 मामले और उत्तरकाशी में 6 कोराना मरीज के मामले मिले हैं।

CM ने कहा अगले 4 महीने मे होगा टीकाकरण

प्रदेश में अब तक कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या 342246 हो गई है। इनमें से 328262 लोग ठीक हो चुके हैं। कोरोना के चलते अब तक कुल 7366 लोगों की जान जा चुकी है। इसमें बीते मंगलवार को तीन लोगों मौत हो गई है जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि मुख्यमत्री पुष्कर सिहं धामी ने कहा है, कि राज्यो में अगले 4 महीनो में कोविड टीकाकरण कर दिया जाएगा

राजदा राव    

 

यह भी पढे़- टोक्यो ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम को सेमीफाइनल में मिली करारी हार  

कर्नाटक मंत्रिमंडल विस्तार आज दोपहार को होगा

Listen to this article

कर्नाटक सरकार में कैबिनेट विस्तार को लेकर कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई इन दिनों दिल्ली में हैं। सिएम बसवराज बोम्मई ने जानकारी देते हुए बताया की मंत्रिमंडंल का विस्तार आज दोपहार 2:15 बजे होगा औऱ राजभवन में सभी नए मंत्री शपथ लेंगे। कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के रुप में शपथ लेने के बाद बसवराज बोम्मई राज्य की कैबिनेट में फेरबदल पर चर्चा के लिए दिल्ली में है।

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा था की उनके उत्तराधिकारी और नए मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई पार्टी नेतृत्व के निर्णय से अपनी टीम चुनने के लिए स्वतंत्र है। बोम्मई ने कहा कि बीएस येदियुरप्पा से विचार –विमर्श के बाद ही नए मंत्रीयो का नाम तय किया जाएगा और पिछली टीम को ध्यान मे रखते मंत्रिमंडल को संतुलित रखा जाएगा। साथ ही यह भी बताया गया है की उप-मुख्यमंत्री के मसले पर भी बैठक में फैसला होगा और आज की बैठक मे बी वाई विजयेंद्र के मसले पर भी मुद्दा साफ हो जाएगा।

 

   -रितिका चौहान

 

यह भी पढ़े- उत्तराखंड में मलिन बस्तियों के बचाव के लिए विधेयक लाने की घोषणा

दिल्ली में दुष्कर्म के मामलों में खेली जा रही राजनीति

Listen to this article

हांलही में 9 वर्षीय की बच्ची के साथ पश्चिमी दिल्ली के कैंट इलाके में सामूहिक दुष्कर्म हुआ और फिर उसकी हत्या हो गई। इस मामले ने सबको हिला कर रख दिया वंही दूसरी तरफ इस पर राजनीति होती दिखाई दे रही है। पीड़ित के परिवार से मिलने दिल्ली के भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता पहुंचे थे मगर उन्हें अंदर जाने नहीं दिया। बाद में समझाने और बुझाने के बाद ही परिजनों ने आदेश गुप्ता से मुलाकात करने को राज़ी हुए। भाजपा अध्यक्ष ने परिजनों को न्याय का भरोसा दिलाया। वही आस पास के लोंग बहुत गुस्से में है और बच्ची के न्याय की उम्मीद सरकार से लगा कर बैठे है।

राहुल गांधी ने पीड़ीत का पक्ष लिया है और उन्हें भरोसा दिलाया की वह परिवार को इंसाफ दिलाने का पूरा प्रयास करेंगे। उन्होंने जनता को भरोसा दिलाते हुए कहा कि उनकी बेटी, देश की बेटी न्याय की हकदार है और इस न्याय के रास्ते पर वो उनके साथ देगें। वही अब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल  भी पीड़ित के परिजनों से मिलने आ सकतें है।

 

 – नैन्सी लोहानी

 

यह भी पढ़े- मिर्जापुर जिले में बरीदुबे गांव के पास रेलवे ट्रैक पर युवक का मिला शव

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का तमिलनाडु का पांच दिवसीय दौरा

Listen to this article

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद तमिलनाडु को पांच दिवसीय दौरे पर है। राष्ट्रपति हेलिकॉप्टर से उधगमंडलम के लिए रवाना हुए और तीन दिन राजभवन में रहेंगे। राष्ट्रपति बीते दिन को नीलगिरी जिले के उधगमंडलम पहुंचे। यहां राष्ट्रपति कोंविद तीन दिंनो तक रहेंगे। इस दौरान आज वह वेलिंगटन के डिफेंस स्टॉफ कालेज में एक समारोह में भाग लेंगे। राष्ट्रपति के दौरे को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। इससे पहले सोमवार को कोविंद चेन्नई से कोयंबटूर के सुलूर वायु सेना स्टेशन पहुंचे, जहां वह तमिलनाडु राज्य विधानसभा के शताब्दी समारोह में शामिल हुए और उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि के चित्र का अनावरण भी किया। तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित और कुछ राज्य मंत्रियों और वरिष्ठ जिला और पुलिस अधिकारियों ने वायु सेना स्टेशन पर उनका स्वागत किया।

6 अगस्त को दिल्ली रवाना होंगे राष्ट्रपति

जानकारी के अनुसार राष्ट्रपति 6 अगस्त को दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे। इस बीच, कोयंबटूर जिला प्रशासन ने 6 अगस्त तक सुलूर वायु सेना स्टेशन और उसके आसपास ड्रोन उड़ाने पर प्रतिबंध लगा दिया है।

 

  -रितिका चौहान

 

यह भी पढ़े- उत्तराखंड में स्कूल खुलने पर 44 प्रतिशत बच्चे ही पहुंचे विद्यालय

स्कूलों की गलती के कारण रुका CBSE का परिणाम  

Listen to this article

कोरोना के चलते सीबीएसई ने 10वीं और 12वीं का रीजलर्ट बिना परीक्षा के आ गए है। लेकिन स्कूलों को एक फार्मूला दिया है जिसके आधार पर ही सभी छात्रों को अंक दिए जाने थे और साथ बोर्ड के पोर्टल पर उनसे जुड़ी अन्य जानकारी भी भरनी थी। मगर देहरादून रीजन में कुल चार स्कूलों के 390 छात्रों का परिणाम जारी नहीं हो सका है और गलती मुख्यता स्कूल प्रसाश्न की बताई जा रही है। गलत अंक देने और साथ ही दूसरे मानकों को पूरा ना करने की वजह से सीबीएसई ने इन छात्रों का परिणाम रोक दिया है।

कहा हो गई गलती

जाँच पड़ताल से पता चला है की उन 4 स्कूलों ने छात्रों को फार्मूले से अलग अंक देने के साथ- साथ बोर्ड के पोर्टल पर उनके रोल नंबर, नाम, जन्मतिथि और भी चीजें गलत भरी है। इस घटना से प्रभावित बच्चों ने स्कूल के अधिकारियों से इससे संबंधित बात की है जिसमें सीबीएसई के क्षेत्रीय अधिकारी रणबीर सिंह ने बताया कि इस प्रकार की छोटी से छोटी गलती पोर्टल आसानी से पकड़ लेता है। वंही इस घटना को देखते हुए स्कूलों का परिणाम रोका गया है। वंही स्कूलों को उनकी गलती के बारे में बता दिया गया है। स्कूलों की तरफ से सही जानकारी अपलोड होते ही परिणाम जारी कर दिया जाएगा। यह प्रक्रिया एक सप्ताह के भीतर पूरी कर ली जाएगी।

 

  – नैन्सी लोहानी

 

यह भी पढ़े- कर्मचारियों को 11 फीसदी बढ़े डीए का भुगतान, शासन ने मुख्यमंत्री को भेजा प्रस्ताव