Home » Uttarakhand » मां झूमाधूरी के जंगल में आग लगने से वन संपदा को नुकसान

मां झूमाधूरी के जंगल में आग लगने से वन संपदा को नुकसान

झूमाधूरी
Listen to this article

मां झूमाधूरी के जंगल में आग लगने से वन संपदा को  काफी नुकसान हुआ।

शुक्रवार को चम्पावत के ग्राम सभा पाटन पाटनी और ग्राम सभा पम्दा के जंगलो में भयंकर आग लगने से छोटे – छोटे बाँज, बुरांश ,फल्याट,

उतिस सहित लाखो की वन संपदा जल कर राख हो गई है और जंगलो में गिरे सुखे पेड़ो पर आग ने रौद्र रुप ले लिया है।

शुक्रवार को दिन में पाटन पाटनी के जंगलो में आग लगी , देखते ही देखते आग मां झूमाधूरी के जंगलो में पहुंच गई।

जंगल की आग बढते – बढते 36 वी वाहिनी आईटीबीपी अवासीय परिसर की ओर बढ़ने लगी है।

झूमाधूरी मंदिर की चोटीयों में आग लगने से आसपास के इलाको में धुंध सी फैल गई है।

शीतकाल में आग लगने की घटना जिले में पहली बार सामने आ रही है।

क्योंकि काफी लंबे समय से बारिश ना होने के कारण वातावरण में ऐसा हो रहा है।

दिन में तापमान बढ़ने से जंगलो में आग जैसी घटनाए सामने आ रही है।

आग लगने से प्राकृतिक जल स्रोत सूखने की आशंका

रेंजर दीप जोशी का कहना है, कि वन कर्मी वन की आग बुझाने में लगे है।

चीड़ का जंगल होने से आग बढ़ती ही जा रही है।

जिससे वन कर्मीयों को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है।

इन स्रोतो से जंगली जानवर अपनी प्यास बुझाते ही है। साथ ही साथ

 

यह भी पढ़ें-Mumbaikar First Look: करण जोहर ने फिल्म ‘मुंबईकर’ का फर्स्ट लुक किया लांच

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *