हैती के राष्टपति जोवेनेल मोसे की उन्ही के घर पर हुई हत्या

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram
Listen to this article

प्रधान मंत्री ने कहा कि हैती के राष्ट्रपति जोवेनेल मोसे की राजधानी पोर्ट-ऑ-प्रिंस में उनके घर पर आज तड़के एक हमले में हत्या कर दी गई है।
प्रधान मंत्री क्लॉड जोसेफ ने बयान में कहा कि जोवेनेल की पत्नी, मार्टीन मोसे को भी हमले में गोली मार दी गई थी। उसकी हालत तुरंत स्पष्ट नहीं थी।
“अज्ञात व्यक्तियों के एक समूह, जिनमें से कुछ स्पेनिश बोलते हैं, गणतंत्र के राष्ट्रपति के निजी आवास पर हमला किया और इस तरह राज्य के प्रमुख को गंभीर रूप से घायल कर दिया। प्रधान मंत्री ने कहा “देश में सुरक्षा की स्थिति हैती पुलिस और हैती सशस्त्र बलों के नियंत्रण में है।” उन्होंने कहा कि देश की रक्षा के लिए सभी उपाय किए जा रहे हैं।

एक लंबा इतिहास रहा

मियामी से 675 मील दक्षिण-पूर्व में गरीब कैरिबियाई द्वीप राष्ट्र को झकझोर कर रख दिया है। हैती में तानाशाही और तख्तापलट का एक लंबा इतिहास रहा है, और लोकतंत्र ने कभी भी पूरी तरह से जड़ नहीं जमाई है।

मोसे विपक्ष के आग्रह के बावजूद कि उनका कार्यकाल समाप्त हो गया था, सत्ता पर कब्जा करने के अपने प्रयास पर बढ़ते जनता के गुस्से को शांत करने के लिए संघर्ष कर रहे थे।विपक्ष ने कहा कि श्री मोसे का पांच साल का कार्यकाल 7 फरवरी को समाप्त हो जाना चाहिए था, जब से उनके पूर्ववर्ती मिशेल मार्टेली ने पद छोड़ दिया था। जब श्री मोसे ने कार्यालय छोड़ने से इनकार कर दिया, तो हजारों हाईटियन सड़कों पर उतर आए, उनके इस्तीफे की मांग करते हुए कचरा और टायरों में आग लगा दी।

23 लोगों की गिरफ्तारी की घोषणा

जवाब में, सरकार ने एक शीर्ष न्यायाधीश और एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सहित 23 लोगों की गिरफ्तारी की घोषणा की, जिनके बारे में राष्ट्रपति ने कहा कि उन्होंने उन्हें मारने और सरकार को उखाड़ फेंकने की कोशिश की थी।
अशांति से पहले भी, राष्ट्रपति के पास व्यापक सार्वजनिक जनादेश नहीं था। उन्होंने 11 मिलियन के देश में सिर्फ 600,000 वोटों के साथ 2016 का चुनाव जीता। आलोचकों ने उन पर और अधिक निरंकुश बनने का आरोप लगाया क्योंकि उन्होंने एक आक्रामक एजेंडे को आगे बढ़ाया जिसमें देश के संविधान को फिर से लिखना शामिल था।

जून में हाउस फॉरेन अफेयर्स कमेटी की सुनवाई

राज्य के सचिव एंटनी ब्लिंकन ने जून में हाउस फॉरेन अफेयर्स कमेटी की सुनवाई के दौरान बिडेन प्रशासन के सख्त रुख को रेखांकित किया।
हैती ने 1804 में अपनी स्वतंत्रता हासिल की, जब हाईटियन औपनिवेशिक फ्रांस के खिलाफ उठे। देश में पहला स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव 1990 में हुआ था।

इस साल विरोध प्रदर्शन व्यापक अशांति का हिस्सा थे, जिसमें भारी हथियारों से लैस गिरोह सड़कों पर भिड़ रहे थे और पुलिस स्टेशनों पर हमला कर रहे थे।

– मीना छेत्री

 

यह भी पढ़े- भाजपा कार्यकर्त्ताओं ने डोईवाला व रायवाला में धुमधाम से किया सीएम धामी का स्वातगत

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram

और खबरें

कर्नाटक में मंत्रिमंडल विस्तार में आज 29 मंत्रियों ने ली शपथ

Listen to this article

कर्नाटक मे मंत्रिमंडल का विस्तार आज किया गया । बेंगलुरु स्थित राजभवन में राज्यपाल थावरचंद गहलोत ने  29 मंत्रियों को शपथ दिलाई । शपथ ग्रहण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई भी शामिल हुए थे। इन मंत्रीयो की पूरी लिस्ट आज सुबह ही राज्य के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई को मिली। मुख्यमंत्री ने स्वयं इसकी पुष्टि की और बताया, ‘नए मंत्रिमंडल में 29 मंत्रियों को शामिल किया जाएगा, किसी को भी उपमुख्यमंत्री पद पर नियुक्त नहीं किया जा रहा है।

आज सुबह आगे उन्होंने कहा की, ‘हमें आधिकारिक तौर पर मंत्री परिषद की लिस्ट मिल गई है। इनमें उन मंत्रियों के नाम शामिल हैं जो आज राजभवन में शपथ लेने वाले हैं। जानकारी दें दे की मुख्यमंत्री बोम्मई अपने मंत्रिमंडल के विस्तार पर भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के साथ विचार-विमर्श करने के लिए पिछले दो दिनों से दिल्ली में थे

 

 -रितिका चौहान

 

यह भी पढ़े- उत्तराखंड में कोरोना मरीजों के मामलो में आई कमी

शिक्षा मंत्रालय ने सभी स्कुलों मे NCC प्रशिक्षण की बनाई योजना

Listen to this article

केंद्र सरकार युवाओं में सेना और दुसरे सुरक्षा बलों के प्रती झुकाव बढ़ाने के लिए अब सभी माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कुलों को अनिवार्य NCC प्रशिक्षण से जोड़ने की तैयारी में है और इस दिशा मे काम शुरु हो गया है। जानकारी दी गई है की शिक्षा मंत्रालय ने इस योजना पर तेजी से काम शुरु कर दिया है। पहले चरण में देशभर के सभी केंद्रीय विधालय और नवोदय विधालयों मे इस प्रशिक्षण को शुरु किया जाएगा और राज्यों को इसकी तैयारी करने को कहा गया है । स्कूलों में NCC विंग के विस्तार की यह योजना नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति की सिफारिश के बाद बनाई गई है, जिसमें रक्षा मंत्रालय की मदद से राज्य सरकारों को इसके लिए प्रोत्साहित करने की बात कही गई है। इसके साथ ही कहा गया है कि इससे छात्रों की प्रतिभा की पहचान में मदद मिलेगी। इससे वह सेना और सुरक्षा बलों के साथ मिलकर अपने करियर को भी संवार सकेंगे।

शिक्षा मंत्रालय जुटा रहे जानकारी

जानकारी के अनुसार फिलहाल ऐसे सभी केंद्रीय विधालय और नवोदय विधालयों की जानकारी निकाली जा रही है जंहा मौजुद समय में NCC प्रशिक्षण की सुविधा नहीं है और जानकारी जुटाने को बाद सरकार जल्द ही रक्षा मंत्रालय के साथ मिलकर इसे मंजूरी ले सकती है

 

  -रितिका चौहान

 

यह भी पढे़- उत्तराखंड में मलिन बस्तियों के बचाव के लिए विधेयक लाने की घोषणा

तमिलनाडु ने केरल से आने वाले यात्रीयों के लिए RTPCR किया अनिवार्य

Listen to this article

केरल में कोरोना वायरस मामंलो में आई  तेजी से केंद्र सरकार के साथ साथ उसके पड़ोसी राज्यों  भी तमिलनाडु,कर्नाटक की चिंताएं भी बढ़ा दी है। तमिलनाडु ने एहतियात के तौर पर केरल से यात्रा करने वालों पर कुछ पाबंदियां लगा दी गई है । तमिलनाडु में केरल से आने वालों के लिए NEGATIVE RTPCR CERTIFICATE अनिवार्य कर दी गई है। तमिलनाडु के स्वास्थय विभाग ने कहा है की केरल राज्य में आने वाले सभी यात्रीयों को यात्रा से 72 घंटे पहले तक का NEGATIVE RTPCR रिपोर्ट या पूरी तरह से टिकाकरण प्रमाण पत्र को दिखाने की आवश्यकता होगा। कोरोना वायरस संक्रमण के केरल में बढ़ते मामलों के बीच तमिलनाडु सरकार ने बीते एक अगस्त को कहा था कि पड़ोसी राज्य से आने वाले लोगों के लिए 5 अगस्त से RTPCR जांच रिपोर्ट और टीके की दोनों खुराक का प्रमाणपत्र अनिवार्य कर दिया गया है।

केरल में नए मामले

तमिलनाडु के स्वास्थय मंत्री मा सुब्रमण्यम ने जानकारी देते हुए बताया की केरल में 20,000 से अधिक नए मामले सामने आए है और वंहा की POSITIVITY  रेट 10 प्रतिशत से ऊपर है। केरल में मंगलवार को कोरोना के 23,676 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 34.49 लाख हो गई।

 

    -रितिका चौहान

 

यह भी पढ़े- यूपी सरकार ने 16 अगस्त से स्कूल खोलने का दिए आदेश

कोंग्रेस नेता राहुल गांधी जम्मू-कश्मीर दौरे पर जाएंगे

Listen to this article

कोंग्रेस के नेता राहुल गांधी 9 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से श्रीनगर जाएंगे। वहां उनके पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात करने की संभावना जताई जा रही है। यह बात ध्यान देने योग्य है, कि निकट भविष्‍य में होने वाले विधानसभा चुनाव को राहुल गांधी संभावनाएं तलाश करेंगे  आपको ज्ञात होगा कि जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने बोला कि कांग्रेस साथ सभी राजनीतिक पार्टियों को सीमा- निर्धारण के बाद होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी करनी चाहिए। आजाद पिछले शनिवार दोपहर बाद जम्मू के तीन दिवसीय दौरे पर पहुंचे थे। 

गांधी नगर जम्मू स्थित अपने आवास पर आजाद ने कहा कि जम्मू में पार्टी नेताओं व समाज के विभिन्न वर्गों से बातचीत करूंगा। प्रतिनिधिमंडलों से बातचीत कर समस्याओं को सुना जाएगा। आजाद से जब पूछा गया कि चुनाव की तैयारी कैसी है, तो उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में अभी विधानसभा चुनाव दूर हैं। अभी परिसीमन होना है, फिर चुनाव होंगे। जब कहा गया कि भाजपा चुनाव की तैयारी कर रही है तो आजाद ने कहा कि कांग्रेस समेत हर पार्टी को चुनाव की तैयारी करनी चाहिए।

 

राजदा राव

 

यह भी पढ़े- सोनभद्र जिले में सो रहे पति-पत्नी पर किया फावड़े से हमला

उत्तराखंड में महिलाओं का टीकाकरण अभियान आज से हुआ शुरु

Listen to this article

उत्तराखंड में गर्भवती महिलाओं को कोरोना का टीका लगाने के  लिए अभियान आज से शुरू हो गया है  स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने गांधी शताब्दी अस्पताल परिसर को अभियान  शुरु किया। मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने बताया कि दिसंबर तक सभी को टीका लगाने का कार्य  पुरा कर लिया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री ने बोला है, कि आज सभी प्रदेशो में गर्भवती महिलाओं को टीका लगाने का शुभारंभ कर दिया गया है।

15 गर्भवती महिलाओं का हुआ टीकाकरण

अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार पांडेय ने बताया कि अभी के लिए सभी महिलाएं को बुधवार और शनिवार को सभी जिला अस्पताल, उप जिला अस्पताल, मेडिकल कॉलेज अस्पताल, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण किया जाएगा। डॉक्टर पांडेय ने बताया कि गर्भवती महिलाओं को टीका लगाने को लेकर स्वास्थ्य कर्मियों को पिछले दिनों प्रशिक्षण दिया गया था। आज बुधवार को गांधी शताब्दी अस्पताल में 15 गर्भवती महिलाओं को कोरोना का टीका लगाया गया।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से चल रहे अभियान के अनुसार प्रदेश में मंगलवार को 77 हजार 89 लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी गई। अभी तक 46 लाख 79 हजार 162 लोगों को कोरोना की पहली वैक्सीन दी जा चुकी है, जबकि 14 लाख 82 हजार 163 को दोनों डोज दी जा चुकी हैं। वहीं, 18 से 44 आयु वर्ग में 65 हजार 706 लोगों को दोनों डोज दी जा चुकी हैं।

 

राजदा 

 

यह भी पढ़े- मणप्पुरम गोल्ड कंपनी में 17 जुलाई को हथियारबंद बदमाशों ने डाली डकैती

RBI के गवर्नर की अध्यक्षता में MPC की बैठक आज से शुरु

Listen to this article

RBI के गवर्नर  दास की अध्यक्षता मे MPC की बैठक आज से शुरु हो गई है और 6 अगस्त को इसके नतीजों की घोषण की जाएगी। हर दो महीने में केंद्रीय बैंक की MPC की बैठक होती है। केंद्रीय बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास की LEAD वाली छह सदस्यीय MPC नीतिगत दरों पर फैसला लेती है। इस बैठक मे अर्थव्यवस्था में सुधार पर चर्चा की जाती है और साथ ही ब्याज दरों का फैसला लिया जाता है। जुन में हुई पिछली बैठक में RBI ने रेपो रेट को 4 फिसदी पर और रिवर्स रेपो रेट को 3.35 फीसदी पर स्थिर बनाए रखा हुआ था। जानकारी दें दे की कोरोना की दुसरी लहर के चलते अप्रैल और मई के दौरान देश के कई हिस्सें में लगाई गई सख्त पाबंदियों से भारतीया अर्थव्यवस्था पर असर पड़ा है जिसके बाद यह बैठक बेहद अहम हो जाती है।

रिजर्व बैंक की नीति

इस संदर्भ में डेलॉयट इंडिया की अर्थशास्त्री रुमकी मजूमदार ने बताया कि, भारतीय रिजर्व बैंक देखो और इंतजार करो की नीति अपना सकता है। वहीं पीडब्ल्यूसी इंडिया लीडर रानन बनर्जी के अनुसार, अमेरिकी फेडरल ओपन मार्केट कमेटी और अन्य प्रमुख मौद्रिक प्राधिकरणों ने यथास्थिति को कायम रखा है इसलिए MPC से भी इसी तरह की यथास्थिति की उम्मीद है।

 

   -रितिका चौहान

 

यह भी पढे़- कर्नाटक में मंत्रिमंडल विस्तार में आज 29 मंत्रियों ने ली शपथ