लखनऊ में बोलेरो सवार ने ट्रैफिक पुलिस को करी कुचलने की कोशिश

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram
Listen to this article

जोशीले ड्राइवरो के किससे तो अक्सर सुनने में आते ही रहते हैं, पर इनकी वजह से हमेशा निर्दोष लोगों को खामिय़ाजा भुकतना  करना पड़ता हैं। मुंशी पुलिया के पास बुरी तरह से बोलेरो चला रहे चालक को रोकने की कोशिश करना ट्रैफिक पुलिस की डयूटी में तैनात मुरारी लाल यादव को महंगा पड़ा। बुलेरों चालक ने दरोगा को बोनट लटका कर कर लगभग 200 मीटर तक तेज स्पीड से घसीटा गाड़ी की स्पीड जब थोड़ी धीमी हुई तब दरोगा किसी तरह गाड़ी से कूदकर बोनट से उतरे और अपनी जान बचाई। इंदिरानगर पुलिस ने बुलेरों गाड़ी के नंबर के आधार पर रिर्पोट दर्ज कि हैं और उसपर जान से मारने की कोशिश के साथ और अन्य धाराए भी लगाई हैं।

इस तरह से चालक ने किया था उल्लंघन

मुरारी लाल यादव ने बताया के 14 अगस्त को वे डयूटी पर तैनात थें, तभी करीब 11 बजे उन्हें एक युवक ने सूचना दी की बोलेरो 32 एफसी 5105 का चालक बहुत ही खतरनाक तरीके से गाड़ी चला रहा है किसी को भी जान का खतरा हो सकता हैं, ये सुनकर दरोगा उस दिशा की ओर बढ़े और गाड़ी को रोकने का इशारा किया पर चालक नहीं रुका और दरोगा को ही बोनट पर लटकाते हुए आगे ले गया आगे मोड़ पर जब गाड़ी की स्पीड़  कम हुई तो दरोगा किसी तरह अपनी जान बचाकर गाड़ी से कूदा। दो दिन हो गए है पर इस मामले में अभी तक राजधआनी पुलिस ने कोई कारवाई नहीं की, गाड़ी के नंबर से पता चला है कि बोलेरो इंद्रीरानगर हरिहर नगर ई-79 के निवासी राना अमर सिंह के नाम से रजिस्टर्ड हैं।

 

–  अनमोल बधानी

 

यह भी पढे़- देहरादुन में निकलेगी जन आशीर्वाद यात्रा

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram

और खबरें

3 बार स्थगित हो चुके रोजगार मेले का आयोजन अब 27 सितंबर को

Listen to this article

कोरोना के मामलों में कमी के चलते रोजगार मेले का आयोजन किया जाने लगा लेकिन युवा इसके लिए इच्छुक नहीं दिख रहे हैं। देहरादून में अब तक रोजगार मेले का 3 बार आयोजन किया जा चुका है। लेकिन तीनों बार इसका आयोजन स्थगित करना पड़ा। रोजगार मेलें में पदों के बराबर भर्ती न आने के कारण मेले का आयोजन नही हो पा रहा है।

 

विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि कंपनियां रोजगार मेले के आयोजन की मांग कर रही है लेकिन आवेदनों की संख्या देखते हुए यह संभव नहीं हो पा रहा है।

 

वहीं बेरोजगारों का कहना है कि उनकी योग्यता के अनुरूप उन्हें नौकरी के अवसर नही मिल रहे हैं। इसलिए वह मेले में भाग लेने के इच्छुक नहीं हैं। इस बार विभाग 27 सितंबर को रोजगार मेले का आयोजन करने जा रहा है जिसके चलते 16 निजी कंपनियां 358 पदों पर रोजगार के अवसर देंगी। मेले में भाग लेने के लिए युवाओं को पहले पंजीकरण कराना होगा।

 

प्रिया जायसवाल

 

 

यह भी  पढ़े-  दुष्कर्म की गूंज दिल्ली से लेकर कानपुर तक, पुलिस विभाग में हड़कंप

अखिलेश यादव ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के निर्माण पर उठाये सवाल

Listen to this article

विधानसभा चुनाव से पूर्व पार्टियां अपनी पकड़ को मजबूत बनाने के साथ-साथ अपनी विपक्षी पार्टियों पर सवाल उठाने से भी पीछे नहीं हट रही हैं। पीछले दिनों भारी बारिश के बाद पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे में दरारे पड़ गई थी। इसके बाद सूचना मिलते ही कार्यदायी संस्था के अधिकारियों और कर्मचारियों ने तत्काल दरार की मरम्मत करवाई।

इसी बात को मुद्दा बनाकर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के निर्माण पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार के निर्माण और भ्रष्टाचार के बीच ऐसा करार हुआ है कि उद्घाटन से पहले ही दरार पड़ गई।

तुकबंदी में किया घेराव

अखिलेश यादव ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के लोकार्पण से पहले ही दरार पड़ने के मामले सरकार का घेराव तुकबंदी करते हुए किया उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि भाजपा सरकार में निर्माण और भ्रष्टाचार के बीच ऐसा हुआ क़रार कि उद्घाटन से पहले ही पड़ गई दरार। काम के नाम पर इन्होंने केवल समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का नाम ही बदला। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे बनाते–बनाते मान्यवर स्वयं पूर्व मतलब भूतपूर्व हो जाएंगे! साथ ही उन्होंने हैसटेग लगा कर नीचे झूठ का फूल भी लिखा।

 

 

अनमोल बधानी

 

 

यह भी पढ़े-  जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टर में डेंगू की पुष्टि

जलविधुत परियोजना के तहत THDC ने हाट गांव में किया ध्वस्तीकरण

Listen to this article

444 वाट की पीपलकोटी जलविधुत परियोजना गोपेश्र्वर के हाट गांव में की जानी है। जिसके लिए हाट गांव में करीब छह मकानों का ध्वस्तीकरण होना है। इसी के चलते आज लोगों के विरोध के बीच टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड (पूर्व नाम हाईड्रो डेवलपमेंट कोरपोरेशन लिमिटेड) हाट गांव में ध्वस्तीकरण की कार्रवाई शुरु कर दी है। इस दौरान ध्वस्तीकरण का विरोध करने वाले कुछ लोगों को पुलिस पकड़कर ले गई। साथ ही विरोध करने वाली महिलाओं के भी पुलिस वहां से कहीं ओर ले गई है। गांव के ध्वस्तीकरण को देखते हुए पूरा गांव छावनी में बदल गया है।

पहले भी किया गया विरोध

बता दे कि टीएचडीसी द्वारा इससे पहले भी 20 अगस्त को ध्वस्तीकरण का प्रयास किया गया था। उस समय कुछ लोगों ने अपने ऊपर पेट्रोल छिड़क कर आत्मदाह करने का प्रयास किया था। जिसको देखते हुए टीएचडीसी द्वारा कार्रवाई रोक दी गई थी।

अब हाट गांव के ग्रामीण कुछ मांगो को पूरा करने के बाद विस्थापन की मांग कर रहे है। फिलहाल वहां ध्वस्तीकरण का काम आज से शुरु हो गया है।

 

आँचल

 

 

यह भी पढ़े-   चारधाम यात्रा को लेकर श्रदालुओं में भारी उत्साह

पोप फ्रांसिस ने साधा रूढ़ीवादी आलोचकों पर निशाना

Listen to this article

पोप फ्रांसिस ने अपने विरोधी रूढीवादी आलोचकों पर निशाना साधते हुए कहा कि  उनकी भदी टिप्पणीया शैतान का काम हैं। हाल में हुई आंतो की सर्जरी के बाद कुछ लोग चाहते थे।

पोप फ्रासिंसि ने स्लोवाक की राजधानी ब्रातिलावामे पहुंचने के तुरंत बाद स्लोवाकिया के जेसूट के साथ 12 सिंतबर को हुई। एक बैठक के दौरान यह बात कहीं। बातचीत मे कुछ अशं मंगलवार को जेसूट जर्नल लॉ सिविल्टा कैटोलिका में प्रकाशित किए गए।

इस बातचीत के दौरान पादरी ने उनसे पूछा कि वह कैसा महसूस कर रहे है। हालाकिं कुछ लोग चाहते थे। कि पादरी के लोग बैठक करे। कि पोप की हालत जो बताई जा रही है। असल मे उससे भी ज्यादा खराब हैं। वे आगे की तैयारी कर रह थे। पोप फ्रांसिस की जुलाई मे सर्जरी हुई थी। बडी आंत का 33 सेंटीमीटर हिस्सा निकाला गया था। इसके बाद पोप ने 12 से 15 सिंतबर को हगंरी-स्लोवाकिया की यात्रा की थी।

दरअसल पोप फ्रांसिस की जुलाई में सर्जरी हुई थी। उनकी बड़ी आंत का 33 सेंटीमीटर हिस्सा निकाला गया था।

 

शिवानी चौधरी

 

 

यह भी पढ़े-   अक्टूबर में कोविडशील्ड की करीब 22 करोंड डोज की आपूर्ती करेंगे

डॉ नारायण खड़का को नेपाल के विदेश मंत्री के रूप में नियुक्त किया गया

Listen to this article

प्रधानमत्रीं शेर बहादुर देउबा ने बुधवार को अपनी नेपाली कांग्रेस पार्टी सदस्य नारायण खड़का को अपने मंत्रिमंडल मे विदेशी मंत्री के रूप मे नियुक्त किया है। कैबिनेट को पूर्ण आकार देने में देरी के लिए आलोचना झेल। देउबा पीएम बनने के बाद से पिछले दो महीने से खुद विदेश मंत्रालय को नियुक्ति के बारे पहले ही सूचित कर दिया है। और राष्ट्रपति विधा देवी भंडारी को आज दोपहर बाद उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाए जाने की उम्मीद है।

नेपाल सरकार ने भारत से लगे सभी सीमा नाका को खोलने का फैसला किया है। पिछले साल कोविड के कारण इन्हे बन्द किया गया था। अब सरकार ने इस फैसले को खारिज करते हुए। सभी सीमा नाका खोलने का निर्णय किया है। इसके अलावा देश का नया विदेश मत्रीं अब सीनीयर लीडर नारायण खड़का को बनाया गया था।

 

शिबानी चौधरी

 

 

यह भी पढ़े-  अक्टूबर में कोविडशील्ड की करीब 22 करोंड डोज की आपूर्ती करेंगे

धर्मांतरण का देशव्यापी सिंडिकेट चलाने वाला ओरोपी मौलाना गिरफतार

Listen to this article

उत्तर प्रदेश एटीएस ने आज मुजफ्फरनगर से धर्मांतरण का देशव्यापी सिंडिकेट चलाने वाले प्रसिध्द इस्लामिक मौलाना कलीम सिद्दीकी को गिरफतार किया। एटीएस का कहना है कि उसे हवाला के जरिए विदेशों से फंडिंग मिलती थी। वह लोगों को आकर्षित कर शरीयत व्यवस्था लागू करने तथा जनसंख्या अनुपाद बदलने हेतु वृदह स्तर पर धर्मांतरण करवा रहा था। साथ ही एटीएस के अधिकारियों ने बताया कि मौलाना की संदिग्ध गतिविधियों को देखते हुए उसपर लंबे समय से नजर रखी गई थी। फिलहाल मौलाना कलीम से एटीएस के अधिकारियों द्वारा पूछताछ की जा रही हैं।

धर्म की आड़ में धर्मांतरण

यूपीएटीएस के अनुसार, मुजफ्फरनगर निवासी मौलाना कलीम सिद्दीकी दिल्ली में रहता था। और वह विभिन्न प्रकार की शैक्षणिक, सामाजिक और धार्मिक संस्थाओं की आड़ में अवैध धर्मांतरण के कार्य को अंजाम देता हैं। और इसके लिए विदेशों से फंडिंग की जाती है। वह गैर मुस्लिमों को गुमराह कर और भयाक्रांत कर धर्मांतरण करता है। और फिर धर्मांतरण करने वाले लोगों को भी इस काम में अपने साथ लगा लेता था। मौलाना जामिया इमाम वलीउल्ला नाम का एक ट्रस्ट संचालित करता था। इसके साथ ही वह कई मदरसों की फंडिंग भी करता हैं। जिसके लिए उसे भारी धनराशि हवाला के जरिए भेजी जाती हैं।

 

अनमोल बधानी

 

 

यह भी पढे-  जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टर में डेंगू की पुष्टि