मनीष सिसोदिया ने कहा केवल पांच काम गिना दें मदन कौशिक  

मनीष सिसोदिया ने कहा केवल पांच काम गिना दें मदन कौशिक  
Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram
Listen to this article

 दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया की चुनौती को उत्तराखंड सरकार के शहरी विकास मंत्री और शासकीय प्रवक्ता मदन कौशिक ने स्वीकार तो किया, लेकिन आमने सामने की बहस से किनारा कर लिया। कौशिक ने कहा कि आम आदमी पार्टी के नेता राजनीतिक रूप से कतई गंभीर नहीं हैं और दिल्ली सरकार के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया के पत्र से यह जाहिर हो रहा है। बहस उन्हीं से की जा सकती है, जो बहस के प्रति गंभीर हों। कौशिक ने सिसौदिया को तीन पेज का पत्र भेजा है।

वहीं, उत्तराखंड आने से पहले सिसोदिया ने कहा कि  त्रिवेंद्र सरकार सौ काम नहीं, सिर्फ पांच काम बताए जिससे जनता का भला हुआ हो। रविवार को विधानसभा में मीडिया से मुखातिब कौशिक ने कहा कि दिल्ली के उप मुख्यमंत्री सिसौदिया की ओर से उन्हें भेजे गए पत्र में तथ्यात्मक रूप से गलती है। यह पत्र सरकारी पैड पर भेजा गया है और इसमें बहस के लिए जनवरी 2020 की तिथि दी गई है, जो कब की बीत चुकी है।

कौशिक के मुताबिक उन्होंने इस पत्र का जवाब दिया है, लेकिन बहस का सवाल इसलिए नहीं बनता, क्योंकि आम आदमी पार्टी की सरकार राजनीतिक रूप से गंभीर नहीं है। दिल्ली सरकार के उपमुख्यमंत्री का पत्र बताता है कि आप के नेता उतावलेपन में काम करते हैं। वे राजनेताओं पर पहले आरोप लगाते हैं और बाद में माफी मांग लेते हैं। बहस उन्हीं से की जा सकती है जो बहस के प्रति गंभीर हों।

कौशिक ने आप नेताओं को पर्यटक राजनेता करार दिया और कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार ने पहले दिल्ली के लोगों को धोखा दिया और अब वो उत्तराखंड के लोगों को धोखा देने की कोशिश कर रहे हैं।

 

-मानवी कुकशाल

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram

और खबरें

तेजस्वी यादव का cm नीतीश कुमार पर आरोप

Listen to this article

बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने एक बार फिर से मधुबनी की घटना पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को निशाने पर लिया है आरजेडी नेता ने कहा कि अभी तक एक भी पुलिस अधिकारी पीड़ित परिवार के लोगों से नहीं मिला है। मुख्यमंत्री अपराधियों को संरक्षण दे रहे हैं तेजस्वी ने पूर्व मंत्री विनोद नारायण झा पर हमला किया और कहा कि बीजेपी के विधायक विनोद नारायण झा मधुबनी कांड के दोषी के साथ मुलाकात करते हैं।

घटना के एक दिन पहले उनकी दोषियों से मुलाकात भी हुई थी। उन   पर षड्यंत्र का केस चलना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस कुशासन और राक्षस राज में किसी को कोई न्याय नहीं मिल रहा। विपक्ष अगर पीड़ित की आवाज उठाता है तो उसे पब्लिसिटी कहा जाता है। लोकल एडमिनिस्ट्रेशन का आरोपियों को सपोर्ट मिला है। उन्होंने कहा कि अभी तक फॉरेंसिक टीम घटनास्थल क्यों नहीं पहुंची। आखिर किसको बचाने के लिए ये सब हो रहा है। सरकार किनको बचाने में लगी। सरकार को मामले में सफाई देनी चाहिए।

मीना छेत्री

 

यह भी पढ़े- कोरोना ने पकड़ी रफ्तार ,9 अप्रैल से 15 अप्रैल तक स्कूल बंद

नेहा और ध्वनि ने बनाया बिलियन व्यूज का रिकॉर्ड

Listen to this article

ध्वनि भानुशाली के गाने  दिलबर दिलबर  ने यूट्यूब पर एक बिलियन व्यूज का आंकड़ा पार कर लिया है। इसी के साथ  दिलबर दिलबर ये मुकाम हासिल करने वाला पहला भारतीय गाना भी बन चुका है। अपनी कामयाबियों के बारे में कम ही बात करने वाली गायिका ध्वनि की इस शानदार कामयाबी का खुलासा भी संयोग से ही हुआ। और जब ये हुआ तो इस गाने में अपनी सहगायिका नेहा कक्कड़ के साथ मिलकर ध्वनि ने जमकर धमाल किया। हुआ यूं कि ध्वनि भानुशाली अपने लेटेस्ट गाने राधे  की कामयाबी का जश्न मनाने एक म्यूजिक रियलिटी शो पर पहुंची थी। ये गाना राधा इन दिनों इंटरनेट और एफएम चैनल का मोस्ट फेवरिट गाना बन चुका है। लोग सोशल मीडिया पर इसकी जमकर तारीफें कर रहे हैं।

और कोरोना काल में भी उनके प्रशंसक उन्हें फूलों के गुलदस्ते और तरह तरह के उपहार भेज रहे हैं बाली सी उमर में कामयाबी का सातवां आसमान छू चुकीं ध्वनि इस बार दिखीं म्यूजिक रियलिटी शो इंडियन आइडल के मंच पर। शो की शूटिंग के दौरान वह बातें तो  राधा  की ही कर रही थीं लेकिन बातों ही बातों में जिक्र शो की जज नेहा कक्कड़ के साथ गाए उनके गाने दिलबर दिलबर’ का चल पड़ा। और जैसे ही शो पर ये खुलासा हुआ कि गाना एक बिलियन व्यूज पाने वाला देश का पहला गाना बन चुका है तो वहां जश्न शुरू हो गया।

 

मीना छेत्री

 

यह भी पढ़े- एक स्मैक तस्कर से 16 ग्राम स्मैक बरामद

 

कोरोना से संक्रमितों की संख्या पहुंची 323, तीन की मौत

Listen to this article

कोरोना से संक्रमित लोगों संख्या बड़ती जा रही है और थमने का नाम नहीं ले रही है। प्रशासन ने जैसे ही जांच की संख्या बढ़ाई तो संक्रमितों का आंकड़ा 323 पर पहुंच गया। दो दिन पहले तक जांच का औसत आंकड़ा 1600 था।  शुक्रवार को 2000 से अधिक लोगों की जांच कराई जा रही है। शुक्रवार को GRI मेडिकल कॉलेज 2165 लोगों की जांच में संक्रमण दर अब तक की सबसे अधिक 14.9 हो चुकी है। कोरोना की चपेट में आने वाले लोगों की मौत का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को तीन लोगों की मौत हो गई।

इनमें से दो शहर के एक मरीज खरगोन का रहने वाला है। अप्रैल के 9 दिनों में 15418 लोगों की जांच में संक्रमितों का आंकड़ा 1702 पर पहुंच गया है। इस दौरान संक्रमण की औसत दर 11 फीसद रही है। मार्च में संक्रमण दर महज साढ़े तीन फीसद थी जो तीन गुना बढ़ चुकी है। अब बात कोरोना से मरने वालों की करें तो 9 दिनों में 18 लोगों ने दम तोड़ा है।

शुक्रवार को सुपर स्पेशियलिटी में इलाज ले रहे शब्द प्रताप आश्रम के विनोद कुमार श्रीवास्तव की मौत हो गई तो वहीं पर इलाज ले रहे 56 वर्षीय रमेश सक्सेना ने दम तोड़ दिया। शुक्रवार की दरमियानी रात को खरगोन के 67 वर्षीय साहब सिंह की मौत हो गई। जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 19330 हो गई। जबकि 60 मरीज स्वस्थ होने पर कुल स्वस्थ की संख्या 17305 हो गई। जबकि 1782 एक्टिव मरीज हो चुके हैं।

 

मीना छेत्री

 

यह भी पढ़े- एक स्मैक तस्कर से 16 ग्राम स्मैक बरामद

तापसी पन्नू ने कंगना पर कसा तंज

Listen to this article

तापसी पन्नू और कंगना रणौत के बीच सोशल मीडिया पर तीखी नोक झोक अकसर चलती रहती है। दोनों एक दूसरे पर नीशाना साधते रहते हैं लेकिन इस बार तापसी ने कंगना के लिए कुछ ऐसा कह दिया है कि क्वीन को जवाब देना ही पड़ा। दरअसल हाल ही में तापसी पन्नू को थप्पड़ फिल्म के लिए बेस्ट एक्ट्रेस का फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला है। बेस्ट एक्ट्रेस का फिल्मफेयर अवॉर्ड मिलने के बाद तापसी पन्नू ने स्टेज पर स्पीच दी और कुछ लोगों को थैंक्यू कहा। इस लिस्ट में उन्होंने दीपिका पादुकोण, जान्हवी कपूर, विद्या बालन के साथ कंगना रणौत का नाम लेते हुए उन्हें शुक्रिया कहा।

दरअसल ये सभी इस अवॉर्ड के नॉमिनीज थे। वीडियो वायरल होने के बाद जब कंगना ने इसे देखा तो उन्होंने तुरंत ही तापसी को जवाब दिया। कंगना ने लिखा “ शुक्रिया तापसी विमल इलाइची फिल्मफेयर अवॉर्ड की तुम हकदार हो। तुमसे ज्यादा इसे कोई डिजर्व नहीं करता” और कंगना का ये ट्वीट काफी वायरल हो रहा है।

मीना छेत्री

 

यह भी पढ़े- स्थानीय निवासियों द्वारा पार्षदों पर घोटाले का आरोप

इंदौर का IIM पीजीपी पाठ्यक्रम मध्य एशिया में तीसरे स्थान पर

Listen to this article

भारतीय प्रबंधन संस्थान IIM इंदौर के विभिन्न कोर्सेस को एजुनिवर्सल की बेस्ट मास्टर्स एंड एमबीए रैंकिंग 2021 में बेहतर जगह मिली है। आइआइएम इंदौर के पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम इन मैनेजमेंट PGP को मध्य एशिया में सामान्य प्रबंधन में तीसरी रैंक प्राप्त हुई है। इसी तरह संस्थान के एक्जीक्यूटिव पोस्ट ग्रेुजएट प्रोग्राम इन मैनेजमेंट EPGP को मध्य एशिया में एक्जीक्यूटिव एमबीए में 12वीं रैंक मिली है। यह रैंकिंग 154 देशों के करीब चार हजार स्कूलों और विश्वविद्यालयों के शैक्षिक पाठ्यक्रमों के विश्लेषण पर आधारित है। रैंकिंग देने के पहले पाठ्यक्रम की प्रतिष्ठा स्नातक करने के बाद विद्यार्थियों को मिली नौकरियां और पैकेज विद्यार्थियों की संतुष्टि आदि को परखा गया है।

IMM इंदौर के निदेशक प्रो. हिमांशु राय का कहना है हम मध्य एशिया में पीजीपी के लिए तीसरे और देश में दूसरी रैंक के संस्थान हैं और ईपीजीपी पाठ्यक्रम की बात करें तो मध्य एशिया में 12वीं रैंक और देश में 9वें स्थान पर हैं। संस्थान का मिशन विश्व स्तर की शिक्षा प्रदान करना है और इसके लिए संस्थान न केवल उद्योगों की आवश्यकता बल्कि मजबूत और प्रासंगिक पाठ्यक्रम बनाना भी सुनिश्चित करता है।

इससे विद्यार्थी सामाजिक रूप से जागरूक लीडर और प्रबंधक बनने में सक्षम बनते हैं। हमने महामारी के समय में आनलाइन और हाईब्रिड मोड में भी कक्षाओं का संचालन किया। परीक्षाएं भी आनलाइन और आफलाइन दोनों स्तर पर आयोजित की। प्लेसमेंट प्रक्रिया भी इस बार वर्चुअल मोड पर कराई थी।

मीना छेत्री

 

यह भी पढ़े- स्थानीय निवासियों द्वारा पार्षदों पर घोटाले का आरोप

अभिनेता सतीश कौल का कोरोना के चलते हुआ निधन

Listen to this article

सतीश कौल कोरोना से पीड़ित थे उनका मुंबई में निधन हो गया है। सतीश कौल काफी लोकप्रिय अभिनेता थे। उनके जाने से फिल्म इंडस्ट्री में शोक का माहोल है। कई कलाकारों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी हैl महाभारत जैसी लोकप्रिय सीरियल में भी काम किया था। इसके अलावा वह अमिताभ बच्चन और दिलीप कुमार के साथ भी काम कर चुके हैंl सतीश कौल के निधन पर दुख जताते हुए अशोक पंडित ने उन्हें सोशल मीडिया पर श्रद्धांजलि दी हैl

सतीश कौल की माली हालत खराब थी। इसके चलते उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री से वित्तीय मदद की भी गुहार लगाई थी। उन्होंने कहा था कि वह दवाइयों और मूलभूत सुविधाओं के लिए संघर्ष कर रहे हैं। सतीश कौल ने महाभारत में भगवान इंद्र की भूमिका निभाई थी। सतीश कौल ने कई फिल्मों में काम किया था। उन्होंने तीन सौ से ज्यादा पंजाबी और हिंदी फिल्मों में काम किया था। साथ ही उन्होंने दावा किया था कि कोरोना वायरस के चलते लगे लॉकडाउन से उनकी परिस्थिति बहुत गंभीर हो गई थी।

उनकी जीने की चाह बहुत ज्यादा थी 

सतीश कौल ने प्यार तो होना ही था। आंटी नंबर वन विक्रम और बेताल जैसी फिल्मों में भी काम किया था। सतीश कौल पंजाब से मुंबई गए थे और उन्होंने एक्टिंग करना शुरू किया थाl सतीश कौल ने एक इंटरव्यू में अपने दर्शकों का आभार भी जताया था कि उन्होंने उन्हें बहुत प्यार दिया हैl वह जीना चाहते थेl सतीश कौल ने एक इंटरव्यू में कहा था कि वह पंजाब से मुंबई 2011 में वापस आए हैंl उनका प्रोजेक्ट सफल नहीं हुआ थाl उन्होंने जो भी काम किया वह किसी न किसी कारण रुक गया थाl उनकी एक हड्डी भी फैक्चर हो गई थी।  ढाई वर्ष तक वह बिस्तर पर ही थे।

 

-मीना छेत्री

 

यह भी पढ़ें-नैनीताल में कोरोना का विस्फोट ,20 की रिपोर्ट आई पॉजिटिव