राज्य मंत्री गुलाब देवी ने किया चंदौसी सयुंक्त चिकित्सालय का, मिली पौष्टिक आहार ना मिलने की शिकायत

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram

संभल  में योगी सरकार की राज्यमंत्री गुलाब देवी के चंदौसी सयुंक्त चिकित्सालय के अचानक निरीक्षण के दौरान अस्पताल में भर्ती प्रसूता महिलाओ को पौष्टिक आहार और खाना न मिलने की  शिकायत सामने आई  है। राज्य मंत्री गुलाब देवी को अस्पताल के किचिन पर भी ताला पड़ा मिला।

दरअसल  यूपी सरकार में माध्यमिक शिक्षा राज्यमंत्री गुलाब देवी आज  अचानक चंदौसी में  सयुंक्त  चिकित्सालय के निरीक्षण के लिए अस्पताल पहुंची थी। वहीं  अस्पताल में अचानक राज्य मंत्री गुलाब देवी को देखकर अस्पताल में मौजूद स्टाफ में हड़कंप मच गया। राज्य मंत्री गुलाबदेवी अस्पताल में दी जाने बाली सुविधाओं को जानने के अस्पताल में भर्ती प्रसूता महिलाओ के पास पहुँच गई। राज्य मंत्री ने जब प्रसूता महिलाओ से अस्पताल में मिलने वाले खाने अन्य पौष्टिक आहार के संबंध में पूंछा तो सभी प्रसूता महिलाओ ने बताया की अस्पताल में न तो खाना ही दिया जाता है न कोई पौष्टिक आहार। 

वहीं प्रसूता महिलाओ की यह शिकायत सामने आने के बाद राज्य मंत्री गुलाब देवी अस्पताल का किचिन देखने पहुँच गई। लेकिन राज्य मंत्री को अस्पताल के किचिन पर ताला पड़ा मिला। मंत्री ने अस्पताल में तैनात डॉक्टर से जानकारी की तो बताया गया की अस्पताल में मरीजों के भोजन और अन्य पौष्टिक आहार की जिम्मेदारी प्राइवेट ठेकेदार के जिम्मे है। जो कि कभी कभार ही मरीजों को खाना उपलब्ध कराता है।

 वहीं राज्य मंत्री गुलाब देवी ने मौके पर ही सीएमओ अमिता सिंह को फोन कर नाराजगी जताते हुए  मरीजों को खाना व् अन्य पौष्टिक आहार न मिलने की शिकायत की जांच कर कार्यवाही के आदेश दिए है।

(संभल से सतीश सिंंह की रिपोर्ट)

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अयोध्या में राम मंदिर के बाद अब मस्जिद निर्माण की तैयारियां शुरू

अयोध्या में राम मंदिर के बाद अब मस्जिद निर्माण की तैयारियां शुरू

अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निम्राण की शुरुआत के बाद अब मस्जिद निर्माण की तैयारियां भी तेज हो गई हैं।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा इस साल 9 नवंबर को सुनाए गए ऐतिहासिक निर्णय के बाद

अयोध्या के धन्नीपुर में दो मीनारों वाली अंडाकार मस्जिद बनने जा रही है।

यह बाबरी मस्जिद के बराबर रकबा में बनने वाली मस्जिद है। इस मस्जिद का

डिजाइन ऐतिहासिक मस्जिद से अलग होगा।

मस्जिद में करीब 2000 लोग एक साथ नमाज अदा कर सकेंगे।

जानकारी के मुताबिक इस मस्जिद का डिजाइन इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन ट्रस्ट ने तैयार किया है।

सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशानुसार उत्तर प्रदेश सरकार ने धन्नीपुर

गांव में मस्जिद बनाने के लिए पांच एकड़ जमीन दी है। जानकारी के मुताबिक मस्जिद का आकार लगभग 15,000 वर्गफीट होगा।

कैसा होगा मस्जिद का डिजाइन

सुत्रों के अनुसार मस्जिद की इमारत का आकार अंडाकर रखा जाएगा साथ ही छत गुंबदनुमा पारदर्शी होगी।

इसकी दो मीनारें मॉर्डन डिजाइन की होंगी। मस्जिद की दीवारें सीधी न होकर हल्की गोलाकार नजर आएंगी।

इस मस्जिद में  दरवाज़े के ऊपर बना अर्धमंडलाकार (मेहराब) भाग नहीं होगा।

सौर ऊर्जा की रोशनी से जगमागाएगी मस्जिद

अयोध्या के धन्नीपुर में बनने जाने वाली मस्जिद मॉर्डन के साथ-साथ इसमें प्रकाश के लिए सौर ऊर्जा लगाए जाएगें।

इसके लिए सौलर पैनल लगाए जाएगें। मॉर्डन होने के साथ-साथ प्रकृति का भी विशेष ध्यान रखा जाएगा।

मस्जिद के परिसर में हरे-भरे पौधे भी लगाए जाएगें। यहां जल का संरक्षण करने की भी  योजना बनाई गई है।

 

यह भी पढें-कॉर्बेट नेशनल पार्क में बाघों की संख्या बढ़ने से चिंता में विभाग

 नाबालिग का अपहरण करने का बाद धर्म परिवर्तन करने की कोशिश

 नाबालिग का अपहरण करने का बाद धर्म परिवर्तन करने की कोशिश

उत्तर प्रदेश के सीतापुर में नाबालिग का अपहरण करने के बाद जबरन उसका धर्म परिवर्तन करने का मामला सामने आया है।

परिजनों ने एक हफ्ते पहले  पुलिस के पास नाबालिग के अपहरण की एफआईआर दर्ज कराई थी।

सीतापुर के तंबौर थाना इलाके  में एक नाबालिग का एक हफ्ते  पहले कुछ लोगों ने अपहरण कर लिया था।

पीड़िता की मां ने बताया कि अपहरण के बाद उनके घर से कुछ रुपए भी गायब थे।

पीड़िता मां ने पहले थाने में अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी,

लेकिन बाद में पीड़िता के पिता ने गांव में रहने वाले जुबराईल, उसके भाई इजराइल,बहनोई

उस्मान और अन्य के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

पीड़िता के घर वालों ने आईजीआरएस पर भी इस मामले की शिकायत की थी।

पीड़िता के पिता ने आरोप लगया कि जुबराईल और उसके परिवार वालों ने पहले

उनकी बेटी का अपहरण किया और उसके बाद जबरदस्ती  उसे धर्म परिवर्तन के लिए ले जाया गया।

इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए धर्म परिवर्तन संशोधित अध्यादेश के तहत

8 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के बाद इजराइल और उस्मान को हिरासत में लिया है।

यह भी पढें-कॉर्बेट नेशनल पार्क में बाघों की संख्या बढ़ने से चिंता में विभाग

 

रामपुर: चार साल की मासूम से नाबालिग ने किया दुष्कर्म

रामपुर: चार साल की मासूम से नाबालिग ने किया दुष्कर्म

उत्तरप्रदेश से इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है।

जहां एक नाबालिग ने चार साल की मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म किया।

रामपुर जिले के बिलासपुर कोतवाली इलाके में शुक्रवार दोपहर में चार साल की मासूम बच्ची

घर के बाहर खेल रही थी, पीड़िता के पापा और चाचा घर से बाहर अपने काम के लिए चले गए थे,

साथ ही पीड़िता की मां भी पड़ोस के घर में किसी काम से चली गई थी।

पीड़िता खेलते-खेलते पड़ोसी के यहां जा पहुंची जहां पड़ोस मे रहने वाले किशोर ने किसी

को आसपास न पाकर मासूम के साथ  दुष्कर्म किया।

शर्मनाक बात यह है कि जिसने पीड़िता के साथ दुष्कर्म किया वह रिश्ते में पीड़िता का चाचा लगता है।

दुष्कर्म करने के बाद जब पीड़िता की हालत खराब होने लगी तो आरोपी उसे घर छोड़कर फरार हो गया।

घर पर परिजनों के आने के बाद उनको इस घटना का पता चला।

पीड़िता की हालत को देखते हुए उसे निजी अस्पातल में भर्ती कराया गया।

साथ ही पीड़िता के परिजनों ने बिलासपुर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करा दी है। पुलिस आरोपी की खोज कर रही है।

यह भी पढें-कॉर्बेट नेशनल पार्क में बाघों की संख्या बढ़ने से चिंता में विभाग

योगी सरकार रोजगार देने के लिए आज से शुरु करेगी मिशन रोजगार

योगी सरकार रोजगार देने के लिए आज से शुरु करेगी ‘मिशन रोजगार’

उत्तरप्रदेश में  आज से योगी सरकार ने विकास और युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए एक नया कदम उठाया है,

जो कि इतिहास की सबसे बड़ी योजना होगी।

जिसके तहत प्रदेश के 50 लाख युवाओं को रोजगार से जोड़ा जाएगा।

उत्तर प्रदेश में मिशन रोजगार के तहत यह सबसे बड़ा अभियान है ।

बता दें, कि उत्तरप्रदेश में आज से मिशन रोजगार  शुरु किया जाएगा।

जिसके तहत आज से स्वरोजगार, कौशल प्रशिक्षण और अप्रेन्टिसशिप के अवसर युवाओं को उपलब्ध कराएं जाएंगे।

मिशन रोजगार

मिशन रोजगार का उद्देश्य राज्य सरकार की योजना के

तहत वित्तीय वर्ष के अंत तक 50 लाख युवाओं को रोजगार देने का है।

मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने बताया कि मिशन रोजगार के अन्तर्गत प्रदेश सरकार

के विभिन्न विभागों, संगठनों, स्वयंसेवी संस्थाओं, निगमों, परिषदों, बोर्डों और प्रदेश सरकार के

विभिन्न स्थानीय निकायों, विकास प्राधिकरण और औद्योगिक विकास प्राधिकरण शामिल किए जाएंगे।

इसके अलावा प्रदेश में युवाओं के लिए रोजगार, स्वरोजगार, कौशल प्रशिक्षण और

अप्रेन्टिसशिप,भूमि आवंटन, विभिन्न प्रकार के लाइसेन्स और अनुमतियों के माध्यम से

अधिक से अधिक स्वरोजगार के अवसर प्रदान किये जाने का अभियान चलाया जायेगा।

सभी कार्यालयों में होगा हेल्प डेस्क

मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने साथ ही बताया कि हर कार्यालय में हेल्प डेस्क होगा।

जिसमें आपको विभागों से संबंधित रोजगार, कौशल विकास प्रशिक्षण से जुड़े कार्यक्रम की जानकारी दी जाएगी।

इसके अंतर्गत एक पोर्टल भी बनाया जाएगा जिसमें आपको सारी जानकारी समय के साथ उपलब्ध कराई जाएगी।

मिशन रोजगार का संचालन

मिशन रोजगार का पूरा संचालन औद्योगिक विकास आयुक्त द्वारा किया जाएगा।

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय समिति हर महीने अभियान की मॉनिटरिंग करेगी।

वहीं, हर जनपद में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में एक समिति होगी जो रोजगार,

स्वरोजगार के लिए जनपद स्तर पर कार्ययोजना बनाएगी।

प्रशिक्षण एवं सेवायोजन निदेशालय द्वारा निजी उद्योगों के साथ मिलकर रोजगार मेलों का आयोजन किया जाएगा।

साथ ही पहले से रूकी भर्ती के प्रकरणों का निस्तारण भी कराया जाएगा।

 

यह भी पढें-ठेकेदार ने नशीला पदार्थ पिला कर किया शादीशुदा महिला से दुष्कर्म

ठेकेदार ने नशीला पदार्थ पिला कर किया शादीशुदा महिला से दुष्कर्म

ठेकेदार ने नशीला पदार्थ पिला कर किया शादीशुदा महिला से दुष्कर्म

उत्तरप्रदेश के प्रयागराज के शहर शिवकुटी इलाके की रहने वाली एक शादीशुदा महिला को

कंस्ट्रक्शन ठेकेदार ने नशीली कोल्ड ड्रिंक पिलाकर दुष्कर्म के साथ–साथ महिला की

अश्लील वीडियो और फोटो अपने फोन में बना ली।

जब पीड़िता ने पुलिस से शिकायत की बात कही तो ठेकेदार ने पीड़िता को उसकी अश्लील वीडियो

दिखाकर इंटरनेट पर अपलोड करने की धमकी दी।

पीड़िता को लगातार एक महीने तक ठेकेदार ब्लैकमेल करता रहा।

4 अक्टूबर को पीड़िता ने उसकी हरकतों से परेशान होकर पास के नैनी कोतवाली में आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी।

पुलिस ने आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म, ब्लैकमेलिंग, जान से मारने की धमकी की रिपोर्ट दर्ज कर दी है। पुलिस द्वारा जांच शुरु की गयी है।

अश्लील वीडियो और फोटो से तंग महिला ने की थाने में शिकायत

जानकारी के मुताबिक पीड़ित महिला का पति बाहर एक मल्टीनेशनल कंपनी में कार्य करता है।

पीड़िता अपने मायके आई हुई थी। उसने बताया कि नैनी के गंगोत्री नगर, डांडी में उसने एक प्लाट खरीदा है।

जिसका कंस्ट्रक्शन ठेकेदार विकास खन्ना है जिसे पीड़ित महिला ने घर बनाने का ठेका दिया था।

पीड़िता के बयान के मुताबिक एक दिन वो अपने प्लाट को देखने के लिए गई थी जहां

1 अक्टूबर को विकास खन्ना द्वारा महिला को फोन किया गया और प्लाट पर आने को कहा।

महिला जब वहां पहुंची तो विकास ने उसे कोल्ड ड्रिंक पीने की गुजारिश की,

महिला ने कोल्ड ड्रिंक पी ली,कोल्ड ड्रिंक पीने के बाद महिला बेहोश हो गई।

बेहोशी की हालात में आरोपी विकास खन्ना ने उसके साथ दुष्कर्म के साथ–साथ अश्लील वीडियो और फोटो अपने फोन में बना ली।

जब महिला होश में आई तो उसके होश उड़ गए। जिसके बाद पीड़िता

ने एक महीने बाद ठेकेदार से तंग आकर रिपोर्ट दर्ज करा दी।

इंस्पेक्टर नैनी जीतेंद्र सिंह ने बताया कि मामला पुराना है।

पीड़िता की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

 

यह भी पढें-नई शिक्षा निति की बढ़ती लोकप्रियता पर राष्ट्रपति कोविंद ने जताई खुशी

Munna Bhai 3_ अरशद वारसी ने किया बड़ा खुलासा

Munna Bhai 3: अरशद वारसी ने किया बड़ा खुलासा

अरशद वारसी ने बड़ा खुलासा किया कि Munna Bhai 3  के बनने की आशा बहुत कम है ।

फिल्म Munna Bhai MBBS और Lage Raho Munna Bhai  में संजय दत्त के साथ नजर आए अरशद

वारसी ने मजाक में प्रशंसकों से यह भी कहा कि वह राजकुमार हिरानी और विधु विनोद चोपड़ा को इसे बनाने के लिए धमकाएंगेl

Munna Bhai 3 को लेकर दर्शक काफी उत्सुक थे

वहीं दर्शक Munna Bhai 3 को लेकर काफी उत्सुक थे पर अब फिल्म नहीं बन रही है।

अरशद वारसी ने इस बारे में कहा, ‘कुछ भी नहीं हो रहा है। मुझे लगता है,

आप सभी को विधु विनोद चोपड़ा और राजकुमार हिरानी के घर जाना चाहिए और उन्हें धमकी देनी चाहिए,

ताकि वह इस फिल्म पर तेजी से काम करेंl’ अरशद वारसी ने यह भी कहा,

‘मुझे नहीं लगता कि यह काम करेगा। अब लंबा समय हो गया है।

राजकुमार हिरानी कुछ और कर रहे हैं।  मुझे नहीं लगता, यह अब होगाl यह बहुत दुख की बात है।

अरशद वारसी जल्द फिल्म दुर्गामती में नजर आएंगे

इस अवसर पर उन्होंने संजय दत्त के बारे में भी बताया।

अरशद कहते हैं, ‘संजय दत्त कुछ समय पहले दुबई से वापस आए थे और मुझे मिलने के लिए बुलाया।

‘ अरशद वारसी जल्द फिल्म दुर्गामती में नजर आएंगे।

इस फिल्म में उनके अलावा भूमि पेडनेकर की अहम भूमिका है।

यह फिल्म 11 दिसंबर को ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज होने वाली है।

 

यह भी पढें-iPhone 12 : वायरलेस चार्जिंग की समस्या को जल्द ठीक करेगी कंपनी