मुंबई में बारिश से हुई तबाही

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram
Listen to this article

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई कल रात से हो रही बारिश जिसकी वजह से तबाही का नजारा देखने को मिल रहा है। बारिश के चलते जन-जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। वहीं मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल ट्रेन सेवा ठप हो गई है।

एनडीआरएफ ने यह जानकारी दी की बारिश के चलते चैंबूर में एक दीवार ढहने से 12 लोगों की जान चली गई और विक्रोली में दीवार गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई। अब तक 16 लोगों को बचाया जा चुका है। वहीं कई लोग अभी घायल हैं, जबकि कई लोगों के दबे होने की आशंका है। घटनास्थल पर राहत और बचाव अभियान शुरू हो गया है। सड़कों–गलियों से लेकर रेलवे ट्रैकों पर जलजमाव है और घुटनों तक पानी भर आया है। मूसलाधार बारिश की वजह से मुंबई के हनुमान नगर से लेकर कांदीवाली इलाके में लोगों के घरों तक में पानी घुस गया।

– नैन्सी लोहानी

 

यह भी पढ़े- नेता नवीन जिंदल  vs  अरविंद केजरीवाल : उत्तराखंड

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram

और खबरें

स्कूल में अनुसूचित जाति के बच्चों के साथ भेदभाव

Listen to this article

देश में आजादी से अबतक काफी बदलाव आ चुका हैं। पर अभी भी कुछ जगह ऐसी हैं। जहां के लोगों की सोच में कोई बदलाव नहीं आया हैं, वह अभी भी पिछड़ी सोच के साथ चल रहे हैं। और जाति के आधार पर लोगों के साथ व्यवहार करते हैं। ऐसा ही एक किस्सा सामने आया हैं प्रदेश के मैनपुरी जिले से।

मैनपुरी जिले के एक प्राइमरी स्कूल में बच्चों से जातिगत भेदभाव का मामला सामने आया हैं। मैनपुरी जिले के प्राइमरी स्कूल में अनुसूचित जाति के बच्चों के खाने के बर्तन अलग से रखवाए जा रहे थे। ग्राम प्रधान के खिलाफ शिकायत पर सीडीओ ने स्कूल पहुंचकर मामले की पूरी जांच की।

जिम्मेदारी में लापरवाही

सीडीओ ने रोसोइयों को बर्खास्त करते हुए प्रधानाध्यापिका को उनके कर्तव्य में लापरवाही पर निलंबित किया। बीएसए ने प्रधानाध्यापिका को एमडीएम की खराब गुणवत्ता पर फटकार लगाते हुए कार्य में सुधार लाने के निर्देश भी दिए।

बर्तन को लेकर भेदभाव

परिषदीय विद्यालय के दौदापुर में अनुसूचित जाति के बच्चों के साथ भेदभाव किया जा रहा था। स्कूल में जहां अन्य जाति के बच्चों को बर्तन रसोई में रखे जाते थे तो वहीं दूसरी और अनुसूचित जाति के बच्चों के बर्तन उनके पास कक्षाओं में रखे जाते थे।

अनमोल बधानी

 

यह भी पढ़े-  कैबिनेट मंत्री नंदी बोले अल्पसंख्यकों में नए मनोबल का संचार

कैबिनेट मंत्री नंदी बोले अल्पसंख्यकों में नए मनोबल का संचार

Listen to this article

उत्तर प्रदेश सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री एवं प्रयागराज शहर दक्षिणि विधानसभा क्षेत्र से विधायक नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद की बोर्ड परीक्षा के नतीजों की घोषणा की। उन्होंने इस दौरान कहा कि योगी सरकार में अल्पसंख्यकों में नए मनोबल, चेतना और विश्वास का संचार हुआ हैं। साथ ही नंदी ने सभी विद्यार्थियों को बधाई देते हुए कहा कि सभी विद्यार्थि पढ़ाई जारी रखें। बेहतर परिणाम लाएं और अपने परिवार, माता-पिता, और प्रदेश का नाम रोशन करें।

एक हाथ में कुरान, दूसरे में कंप्यूटर

कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने इस दौरान कहा कि हमारी सरकार की मूल नीति सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के साथ सबका प्रयास हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा यही है कि एक हाथ में कुरान और दूसरे हाथ में कंप्यूटर हो। इससे अल्पसंख्यकों में नए मनोबल, चेतना और विश्वास का संचार होगा। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के छात्र छात्राओं के सशक्तिकरण की आधार नीति को यथार्थ धरातल पर लाने के लिए हमारी सरकार निरंतर कार्य कर रही हैं।

आधुनिक शिक्षा भी जरुरी

कैबिनेट मंत्री नंदी ने कहा कि केंद्र तथा राज्य सरकार का लक्ष्य है कि मदरसों में पारम्परिक शिक्षा के साथ आधुनिक शिक्षा भी पूरे वैज्ञानिक तरीके से दी जाए। इसको ध्यान में रखकर सरकार मदरसों की शिक्षा को नई तकनीक और पाठ्यक्रम से जोड़ने का निरंतर प्रयास कर रही हैं।

अनमोल बधानी

 

यह भी पढ़े- मिशन यूपी में जुटी कांग्रेस, नवरात्रि में जारी करेगी विधानसभा चुनाव

सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया गरीब कल्याण मेले का शुभारंभ

Listen to this article

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिले के भरोहिया ब्लॉक से प्रदेश के सभी 826 ब्लॉकों में गरीब कल्याण मेले का शुभारंभ किया। प्रदेश के सभी 826 ब्लॉकों में लोगों को केंद्र एवं प्रदेश सरकार के कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए यह भव्य मेला आयोजित किया गया हैं।

मुख्यमंत्री ने किया संबोधन

भरोहिया ब्लॉक के गुरु गोरखनाथ विद्या पीठ के परिसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने संबोधन में कहा कि किसी भी सरकार की कार्य करने की कसौटी की पहचान संकट के समय में होती हैं। पूरी दुनिया वर्तमान समय में कोरोना महामारी के संकट से जूझ रही हैं। कोरोना से बचाव के लिए पूरी दुनिया में भारत का प्रबंधन सबसे अच्छा रहा हैं। साथ ही सर्वाथिक आबादी वाले इस प्रदेश का प्रदर्शन सभी राज्यों में सबसे बेहतर रहा हैं।

गरीबों को निशुल्क राशन

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना के दोनों चरण में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत अप्रैल 2020 से नवंबर 2020 तक तथा दूसरे चरण में मई 2021 से नवंबर 2021 तक देश में करीब 80 करोंड़ लोगों को एवं प्रदेश में 15 करोंड़ लोगों को निशुल्क राशन उपलब्ध कराने की व्यवस्था हैं। ऐसा कार्य कोई संवेदनशील और लोककल्याण के लिए समर्पित सरकार ही कर सकती हैं। पंडित दीनदयाल उपाध्याय के अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति के कल्याण के लिए दी गई सीख से प्रेरणा एवं प्रकाश लेकर हम एक भारत, श्रेष्ठ भारत परिकल्पना को साकार करेंगे।

अनमोल बधानी

 

यह भी पढ़े- पीएम द्वारा मिलें गुलाबी मीनाकारी उपहार ने विदेशी नेताओं को लुभाया

पीएम मोदी : हिंद-प्रशांत क्षेत्र में मिलकर करना होगा काम

Listen to this article

शुक्रवार को अमेरिका के व्हाइट हाउस में पीएम मोदी और राष्ट्रपति जो बाइडेन के बीच बैठक चली जिसमें कई अहम विषयों को लेकर चर्चायें चली। इसके अलावा क्वाड की दूसरी बैठक जापान, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच हुई। लेकिन इस बैठक से पहले चीन की तरफ से तंज कसा गया और साथ ही सलाह भी दी की किसी भी संगठन को किसी तीसरे देश को निशाना नहीं बनाना चाहिए। इसके साथ-साथ चीन ने यह भी कहा की, पश्चिमी देशों के बिछाये गये जाल से भी भारत को बचना चाहिए।

क्वाड बैठक में भारत का बयान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क्वाड बैठक में कहा की, क्वाड वैक्सीन पहल से भारत-प्रशांत देशों के लोगों को मदद मिलेगी। इसके साथ ही पीएम मोदी ने ये विश्वास भी जताया की क्वाड सहयोग के माध्यम से हम पूरे विश्व में शांति और समृधि भी पहुंचा सकते है। उन्होंने कहा की हमारा क्वाड, फोर्स फॉर ग्लोबल गुड की तरह काम करेगा।

साथ ही उन्होंने कहा की 2004 की सुनामी के बाद चार देश भारत-प्रशांत क्षेत्र की मदद के लिए पहली बार मिल रहें है। कोविड 19 के दौरान जब पूरी दुनिया इस महामारी से लड़ रही है, ऐसे में हम यहां पर मानव कल्याण के रुप में एकत्रित हुए है। और विश्व को किसी भी संकट के रुप में मदद करने के लिए हमें एक दुसरे के सहयोग की आवश्यकता है।

 

यह भी पढ़े- ग्रामीण क्षेत्रों तक विकास पहुंचाना मंत्रालय का लक्ष्य

 

 

फारुक अब्दुल्ला ने तालिबान को लेकर दिया विवादित बयान

Listen to this article

अफगानिस्तान में अब पूरी तरह तालिबान अपना राज जमा चूका है और इस पर दुनिया के कुछ ही देश ऐसे है जो तालिबान को अपना समर्थन दे रहें है। इसमें चीन और पाकिस्तान खास तौर पर शामिल है। इसी बीच नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारुक अब्दुल्ला का एक बयान सामने आया है जिसमें उन्होंने अफगानिस्तान में भारतीय निवेश का हवाला दिया है।

उन्होंने कहा की अफगानिस्तान में अब तालिबान की सरकार आ चुकी है। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान मे पिछले शासन के दौरान भारत ने अलग-अलग परियोजनाओं पर अरबों रुपऐ खर्च किये है। इस विषय पर हमें मौजूदा अफगान सरकार से बात करनी चाहिए। उन्होंने कहा की अगर हमने देश में इतना निवेश किया ही है तो उनसे रिश्ता रखने में क्या परेशानी है।

 

यह भी पढ़े- दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में जितेन्द्र गोगी की गोली मार के की हत्या

दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में जितेन्द्र गोगी की गोली मार के की हत्या

Listen to this article

दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में बाकी दिनों की तरह ही लोगों और वकीलों की आवाजाही चल रही थी। इसी बीच अचानक से कोर्ट में हफड़ातफड़ी शुरु हो गयी और लोगों को हैरान कर दिया। आरोपी जतेंद्र गोगी को दिल्ली पुलिस कोर्ट में पेशी के लिए ले जा रही थी। इसी बीच वकीलों की पोशाक पहने दो व्यक्तियों ने आरोपी गोगी पर बिना रुके गोलियां चलाना शुरु कर दिया जिस कारण जितेंद्र गोगी की मौके पर ही मौत हो गयी। पुलिस की कारवाई के दौरान हमलावरों की भी मौत हो गयी।

कौन था जितेंद्र गोगी

साल 2013 से पहले गोगी और टिल्लू काफी गहरे और अच्छे दोस्त थे। डीयू के स्वामी श्रदानंद कालेज में वो दोनों साथ ही पढ़ते थे। इस दौरान 2013 के छात्रसंघ चुनावों में दोनों के बीच मनमुटाव शुरु हो गया। और गोगी ने संदीप और रविंद्रर की गोली मार कर हत्या कर दी। संदीप और रविंद्रर दोनों ही टिल्लु के काफी करीबी साथी थे।

जितेंद्र गोगी तिहाड़ जेल से दुबई के कारोबारी से 5 करोड़ की रकम मांगने की वजह से सुर्खियों मे आ गया। इसके साथ साथ वो जेल में बैठे -बैठे फिरोती के लिए किसी को भी अगवा करना या मर्डर के लिए सुपारी लेना इस तरह के अपराधों को भी अंजाम देने लगा। गोगी 3 बार पुलिस की हिरासत से भी भाग चुका था। पुलिस ने आरोपी को पकड़ने पर 6 लाख को ईनाम भी रखा था।

 

यह भी पढ़े- मिशन यूपी में जुटी कांग्रेस, नवरात्रि में जारी करेगी विधानसभा चुनाव