Home » Uttarakhand » Tunnel की बनावट से राहत बचाव कार्य में आ रही है बाधा

Tunnel की बनावट से राहत बचाव कार्य में आ रही है बाधा

Tunnel
Listen to this article

उत्तराखंड के चमोली जिले की ऋषिगंगा में आई जल प्रलय से 174 लोग अभी भी लापता है।

इनमें से Tunnel में फंसे हुए करीब 35 मजदूरों को निकालने की कवायद जारी है।

वहीं 32 शव निकाले जा चुके है, इनमें से 8 की शिनाख्त हो गई है। राहत बचाव कार्य अभी

जारी है। साथ ही रातभर Tunnel से मलबा हटाने का कार्य चलता रहा है।

इस दौरान ड्रोन की भा मदद ली गई है। बताया जा रहा है कि अभी टनल से मलबा हटाने में

और समय लगेगा।

बीते कल आईटीबीपी, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और अन्य एजेंसियों की एक संयुक्त

टीम ने तपोवन सुरंग में प्रवेश किया। Tunnel में अभी भी लगभग 120 मीटर तक पहुंचाना

बाकी है। सुरंग के अंदर से आने वाले अधिक मलबा और पानी से आगे का रास्ता मुश्किल

हो रहा है।

आपदा क्षेत्र में बनी Tunnel की बनावट राहत कार्यों में बाधा बना हुई है। इस टनल में

केवल एक ही डोजर उसमें जा सकता है। जिसके कारण तीन दिनों में अभी तक महज 150

मीटर दूरी तक ही मलबा हटाया जा सका है। ऐसे में अब टीमें वहां जाने के लिए दूसरे रास्ते

तलाश रही है। इसके लिए टनल के इंजीनियरो की एक टीम भी बुलाई गई है।

 

किरन

 

यह भी पढ़ें-Priyanka Gandhi महापंचायत आज, जिले में लगी धारा-144

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *