Home » राष्ट्रीय » मौसम के बदले मिजाज से काश्तकारों के चेहरे पर रौनक

मौसम के बदले मिजाज से काश्तकारों के चेहरे पर रौनक

मौसम
Listen to this article

मौसम के बदलते मिजाज से काश्तकारों के चेहरे पर रौनक आ गई है।

मिजाज में आए बदलाव ने इस बार अच्छी पैदावार के संकेत दिए हैं।

कृषि विशेषज्ञों की मानें तो बारिश और बर्फवारी के चलते नकदी फसलों की पैदावार बढ़ने की पूरी उम्मीद है।

कुछ दिन पहले तक किसान बारिश न होने के चलते परेशान थे मगर अब उनके चेहरे पर फिर से रौनक आ गई है।

इस बार मानसून सीजन में लगभग 20 फिसदी कम बारिश हुई।

अक्टूबर, नवंबर और दिसंबर में बारिश ना के बराबर हुई।

नए साल की शुरुआत के बाद मौसम में मिजाज में बदलाव देखने को मिला है जिसके बाद से किसानों को काफी राहत मिली है।

विभाग ने दिसंबर में बारिश का अनुमान लगाया था लेकिन महीनेभर के दौरान बारिश न के बराबर हुई।

बारिश न होने के कारण नमी कम होने से कम उत्पादन की आशंका पैदा हो गई थी। 0

कृषि निदेशक गौरी शंकर ने बताया कि फसलों के लिए पर्याप्त नमी होना जरुरी है।

उन्होने बताया कि बारिश के बाद पाला पड़ना भी कुछ कम हो जाता है जिससे फसल खराब होने का खतरा भी कम हो जाता है।

 

-किरन

 

यह भी पढ़ें-Shah Rukh Khan: 2021 में बड़े पर्दे पर लौटेंगे, फिल्म का नाम लिये बिना किया एलान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *