इस साल नहीं होगी सावन के महीने में होने वाली कांवड़ यात्रा

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram
Listen to this article

हर साल सावन के महीने में होने वाली कांवड़ यात्रा इस साल नहीं होगी। शहरी विकास विभाग ने यात्रा पर रोक संबंधी आदेश जारी कर दिए हैं। दरअसल, कोरोना की दूसरी लहर के शुरुआती दौर में हरिद्वार कुंभ के बाद से सरकार अतिरिक्त एहतियात बरत रही है। कोरोना की तीसरी लहर के खतरे को भांपते हुए सरकार ने कांवड़ यात्रा पर रोक लगाई है।

मुख्य सचिव ओमप्रकाश के निर्देश के बाद शहरी विकास विभाग ने इसके आदेश  दिए है। शहरी विकास विभाग के अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की। आपको बता दें कि हर साल कांवड़ यात्रा में देशभर से श्रद्धालु आते हैं। उनकी आवाजाही से कोरोना संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता है। मुख्य सचिव ओमप्रकाश के निर्देश के बाद शहरी विकास विभाग ने इसके आदेश दिए है। शहरी विकास विभाग के अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की। आपको बता दें कि हर साल कांवड़ यात्रा में देशभर से श्रद्धालु आते हैं। उनकी आवाजाही से कोरोना संक्रमण का खतरा ज्यादा है।

वायरस के नए वेरिएंट डेल्टा प्लस को देखते हुए यात्रा न करने का फैसला

कोविड महामारी के कारण इस साल भी कांवड़ यात्रा नहीं होगी। कोरोना की तीसरी लहर और वायरस के नए वेरिएंट डेल्टा प्लस को देखते हुए कांवड़ यात्रा न करने का फैसला लिया है।हर साल कांवड़ यात्रा में दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश समेत अन्य राज्यों के लाखों शिव भक्त गंगा जल लाने के लिए हरिद्वार आते थे। पिछले साल 15 मार्च को प्रदेश में कोरोना संक्रमण का पहला मामला मिला था। संक्रमण के खतरे को देखते हुए सरकार ने कांवड़ यात्रा को स्थगित करने का निर्णय लिया था। साथ ही सरकार ने यह भी फैसला लिया था कि शिव भक्तों को गंगा जल उन्हीं के राज्यों में उपलब्ध कराया जाएगा।

कांवड़ यात्रा में कुंभ की तरह श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ती है

कांवड़ यात्रा में दूसरे राज्यों से लाखों की संख्या में कांवड़ियां हर की पैड़ी आते हैं। जहां से गंगाजल लेकर शिवरात्रि पर अपने-अपने क्षेत्रों के शिवालयों में जलाभिषेक करते हैं। पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर का कहना है कि कांवड़ यात्रा को स्थगित करने का सरकार की ओर से निर्णय हो चुका है। अभी विभाग की ओर से इसका आदेश नहीं हुआ है।

– मीना छेत्री

 

यह भी पढ़े- ट्रैक्टर ट्राली से कुचलकर बाइक सवार की दर्दनाक मौत

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram

और खबरें

शिक्षा मंत्रालय ने सभी स्कुलों मे NCC प्रशिक्षण की बनाई योजना

Listen to this article

केंद्र सरकार युवाओं में सेना और दुसरे सुरक्षा बलों के प्रती झुकाव बढ़ाने के लिए अब सभी माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कुलों को अनिवार्य NCC प्रशिक्षण से जोड़ने की तैयारी में है और इस दिशा मे काम शुरु हो गया है। जानकारी दी गई है की शिक्षा मंत्रालय ने इस योजना पर तेजी से काम शुरु कर दिया है। पहले चरण में देशभर के सभी केंद्रीय विधालय और नवोदय विधालयों मे इस प्रशिक्षण को शुरु किया जाएगा और राज्यों को इसकी तैयारी करने को कहा गया है । स्कूलों में NCC विंग के विस्तार की यह योजना नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति की सिफारिश के बाद बनाई गई है, जिसमें रक्षा मंत्रालय की मदद से राज्य सरकारों को इसके लिए प्रोत्साहित करने की बात कही गई है। इसके साथ ही कहा गया है कि इससे छात्रों की प्रतिभा की पहचान में मदद मिलेगी। इससे वह सेना और सुरक्षा बलों के साथ मिलकर अपने करियर को भी संवार सकेंगे।

शिक्षा मंत्रालय जुटा रहे जानकारी

जानकारी के अनुसार फिलहाल ऐसे सभी केंद्रीय विधालय और नवोदय विधालयों की जानकारी निकाली जा रही है जंहा मौजुद समय में NCC प्रशिक्षण की सुविधा नहीं है और जानकारी जुटाने को बाद सरकार जल्द ही रक्षा मंत्रालय के साथ मिलकर इसे मंजूरी ले सकती है

 

  -रितिका चौहान

 

यह भी पढे़- उत्तराखंड में मलिन बस्तियों के बचाव के लिए विधेयक लाने की घोषणा

तमिलनाडु ने केरल से आने वाले यात्रीयों के लिए RTPCR किया अनिवार्य

Listen to this article

केरल में कोरोना वायरस मामंलो में आई  तेजी से केंद्र सरकार के साथ साथ उसके पड़ोसी राज्यों  भी तमिलनाडु,कर्नाटक की चिंताएं भी बढ़ा दी है। तमिलनाडु ने एहतियात के तौर पर केरल से यात्रा करने वालों पर कुछ पाबंदियां लगा दी गई है । तमिलनाडु में केरल से आने वालों के लिए NEGATIVE RTPCR CERTIFICATE अनिवार्य कर दी गई है। तमिलनाडु के स्वास्थय विभाग ने कहा है की केरल राज्य में आने वाले सभी यात्रीयों को यात्रा से 72 घंटे पहले तक का NEGATIVE RTPCR रिपोर्ट या पूरी तरह से टिकाकरण प्रमाण पत्र को दिखाने की आवश्यकता होगा। कोरोना वायरस संक्रमण के केरल में बढ़ते मामलों के बीच तमिलनाडु सरकार ने बीते एक अगस्त को कहा था कि पड़ोसी राज्य से आने वाले लोगों के लिए 5 अगस्त से RTPCR जांच रिपोर्ट और टीके की दोनों खुराक का प्रमाणपत्र अनिवार्य कर दिया गया है।

केरल में नए मामले

तमिलनाडु के स्वास्थय मंत्री मा सुब्रमण्यम ने जानकारी देते हुए बताया की केरल में 20,000 से अधिक नए मामले सामने आए है और वंहा की POSITIVITY  रेट 10 प्रतिशत से ऊपर है। केरल में मंगलवार को कोरोना के 23,676 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 34.49 लाख हो गई।

 

    -रितिका चौहान

 

यह भी पढ़े- यूपी सरकार ने 16 अगस्त से स्कूल खोलने का दिए आदेश

कोंग्रेस नेता राहुल गांधी जम्मू-कश्मीर दौरे पर जाएंगे

Listen to this article

कोंग्रेस के नेता राहुल गांधी 9 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से श्रीनगर जाएंगे। वहां उनके पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात करने की संभावना जताई जा रही है। यह बात ध्यान देने योग्य है, कि निकट भविष्‍य में होने वाले विधानसभा चुनाव को राहुल गांधी संभावनाएं तलाश करेंगे  आपको ज्ञात होगा कि जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने बोला कि कांग्रेस साथ सभी राजनीतिक पार्टियों को सीमा- निर्धारण के बाद होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी करनी चाहिए। आजाद पिछले शनिवार दोपहर बाद जम्मू के तीन दिवसीय दौरे पर पहुंचे थे। 

गांधी नगर जम्मू स्थित अपने आवास पर आजाद ने कहा कि जम्मू में पार्टी नेताओं व समाज के विभिन्न वर्गों से बातचीत करूंगा। प्रतिनिधिमंडलों से बातचीत कर समस्याओं को सुना जाएगा। आजाद से जब पूछा गया कि चुनाव की तैयारी कैसी है, तो उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में अभी विधानसभा चुनाव दूर हैं। अभी परिसीमन होना है, फिर चुनाव होंगे। जब कहा गया कि भाजपा चुनाव की तैयारी कर रही है तो आजाद ने कहा कि कांग्रेस समेत हर पार्टी को चुनाव की तैयारी करनी चाहिए।

 

राजदा राव

 

यह भी पढ़े- सोनभद्र जिले में सो रहे पति-पत्नी पर किया फावड़े से हमला

उत्तराखंड में महिलाओं का टीकाकरण अभियान आज से हुआ शुरु

Listen to this article

उत्तराखंड में गर्भवती महिलाओं को कोरोना का टीका लगाने के  लिए अभियान आज से शुरू हो गया है  स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने गांधी शताब्दी अस्पताल परिसर को अभियान  शुरु किया। मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने बताया कि दिसंबर तक सभी को टीका लगाने का कार्य  पुरा कर लिया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री ने बोला है, कि आज सभी प्रदेशो में गर्भवती महिलाओं को टीका लगाने का शुभारंभ कर दिया गया है।

15 गर्भवती महिलाओं का हुआ टीकाकरण

अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार पांडेय ने बताया कि अभी के लिए सभी महिलाएं को बुधवार और शनिवार को सभी जिला अस्पताल, उप जिला अस्पताल, मेडिकल कॉलेज अस्पताल, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण किया जाएगा। डॉक्टर पांडेय ने बताया कि गर्भवती महिलाओं को टीका लगाने को लेकर स्वास्थ्य कर्मियों को पिछले दिनों प्रशिक्षण दिया गया था। आज बुधवार को गांधी शताब्दी अस्पताल में 15 गर्भवती महिलाओं को कोरोना का टीका लगाया गया।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से चल रहे अभियान के अनुसार प्रदेश में मंगलवार को 77 हजार 89 लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी गई। अभी तक 46 लाख 79 हजार 162 लोगों को कोरोना की पहली वैक्सीन दी जा चुकी है, जबकि 14 लाख 82 हजार 163 को दोनों डोज दी जा चुकी हैं। वहीं, 18 से 44 आयु वर्ग में 65 हजार 706 लोगों को दोनों डोज दी जा चुकी हैं।

 

राजदा 

 

यह भी पढ़े- मणप्पुरम गोल्ड कंपनी में 17 जुलाई को हथियारबंद बदमाशों ने डाली डकैती

संसद में आज फिर पेगासस मुद्दे को लेकर हगांमा

Listen to this article

संसद में आज मानसून सप्ताह को 3 हफ्ते का 3 दिन है। पैगासस मुद्दे को लेकर आज भी संसद में हंगामा मचा हुआ है, राज्यसभा में विपक्षी संसदो ने पेगासस मुद्दे को लेकर नारेबाजी की इसके बाद राज्यसभा की कार्यवाही रद कर दी गई है संसद में कांग्रेस के विपक्षी नेता राज्यसभा सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे ने बोला है कि हम पहले पेगासस पर चर्चा करना चाहते हैं। और हम किसानों के मुद्दे, महंगाई, पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों और दूसरे मुद्दों पर भी चर्चा करने के लिए तैयार हैं।

सभी विपक्षी पार्टियां इसके लिए सहमत हैं। लेकिन दुर्भाग्य की बात यह है कि सरकार चर्चा करने के लिए तैयार नहीं है संसद में कांग्रेस के विपक्षी नेता राज्यसभा सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे ने बोला है कि राहुल गांधी गरीबों की समस्याओं के लिए प्रतिबंध्द हैं। तथा वह सभी राजनीतिक दलों को एक साथ लाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने उनसे अनुरोध किया कि वे हमारी स्वतंत्रता, संविधान और लोकतंत्र के हित में क्षेत्रीय राजनीति को भूल जाएं। हम पेगासस और अन्य मुद्दों पर चर्चा करना चाहते हैं। कि विपक्ष संसद को परेशान कर रहा है। जब वे (कांग्रेस) सत्ता में थे, लगभग 2 सत्र धुल गए उनके बड़े नेताओं ने कहा था कि यह व्यवधान जनता की रक्षा करता है।

राजदा राव

 

यह भी पढ़े- मिर्जापुर जिले में बरीदुबे गांव के पास रेलवे ट्रैक पर युवक का मिला शव

उत्तराखंड में कोरोना मरीजों के मामलो में आई कमी

Listen to this article

उत्तराखंड में इन 24 घंटे में 48 नए कोरोना  के मामले सामने आए हैं।  तथा वहीं देखा जाए तो 1 हफ्ते में एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है। हलांकि 38 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गयाऔर  कोरोना के मामलों की संख्या घटकर 581 तक पहुंच गई है।

 इन 4 जिलों मे एक भी कोरोना मरीज नही पाए गए

जानकारी के अनुसार, मंगलवार को 25445 कोरोना सैंपलों की जांच करने के बाद रिपोर्ट निगेटिव आई है।  4 जिलों में बागेश्वर, चंपावत, पौड़ी और टिहरी में एक भी करोना मरीज के मामले नहीं दिखाई दिए है, वहीं, अल्मोड़ा और ऊधमसिंह नगर में 2 मामले  चमोली और रुद्रप्रयाग में 6 मामले  देहरादून और पिथौरागढ़ में 18 मामले हरिद्वार में 11 मामले नैनीताल में 5 मामले और उत्तरकाशी में 6 कोराना मरीज के मामले मिले हैं।

CM ने कहा अगले 4 महीने मे होगा टीकाकरण

प्रदेश में अब तक कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या 342246 हो गई है। इनमें से 328262 लोग ठीक हो चुके हैं। कोरोना के चलते अब तक कुल 7366 लोगों की जान जा चुकी है। इसमें बीते मंगलवार को तीन लोगों मौत हो गई है जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि मुख्यमत्री पुष्कर सिहं धामी ने कहा है, कि राज्यो में अगले 4 महीनो में कोविड टीकाकरण कर दिया जाएगा

राजदा राव    

 

यह भी पढे़- टोक्यो ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम को सेमीफाइनल में मिली करारी हार