आज के Petrol और Diesel के रेट

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram
Listen to this article

आज शुक्रवार को डीजल और पेट्रोल के रेट में कोई बदलाव नहीं हुआ। आज दिल्ली में पेट्रोल का रेट 90.40 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर रहा है। वहीं डीजल का रेट 80.73 रुपये प्रति लीटर के स्तर पर स्थिर रहा। सरकारी तेल कंपनियां कीमतों की समीक्षा करने के बाद प्रतिदिन पेट्रोल और डीजल के रेट तय करती हैं। इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम दैनिक आधार पर 6 बजे से पेट्रोल रेट और डीजल रेट में संशोधन करती हैं, और जारी करती हैं।

आज के पेट्रोल और डीजल के रेट

-दिल्ली में अब 1 लीटर पेट्रोल की कीमत 90.40 रुपये है। वहीं 1 लीटर डीजल 80.73 रुपये प्रति लीटर पर है।

– कोलकाता में अब 1 लीटर पेट्रोल की कीमत 90.62 रुपये है। वहीं 1 लीटर डीजल 83.61 रुपये प्रति लीटर पर है।

-मुम्बई में अब 1 लीटर पेट्रोल की कीमत 96.83 रुपये है। वहीं 1 लीटर डीजल 87.81 रुपये प्रति लीटर पर है।

-चेन्नई में अब 1 लीटर पेट्रोल की कीमत 92.43 रुपये है। वहीं 1 लीटर डीजल 85.75 रुपये प्रति लीटर पर है।\

 

-सोमिया कुटियाल

 

यह भी पढ़े- कोरोना काल में सस्ता हुआ सोना, खरीदारी में हुई बढ़ोतरी

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram

और खबरें

नैनीताल जिले के नीम करौली बाबा के कैंची धाम में इस बार भी मेला रद्द

Listen to this article

कोरोना फैलने के संभावित खतरे को देखते हुए कैंची धाम ट्रस्ट ने नीम करौली बाबा के धाम में होने वाले वार्षिक मेले के आयोजन से इनकार कर दिया है।
कैंची धाम का मेला ही इतना बड़ा है कि जिस में देश विदेश से हर साल लाखों लोग हिस्सा लेने आते हैं। 13 अप्रैल को जब जिलाधिकारी धिराज सिंह गर्ब्याल से मेले की इजाजत देने के संबंध में प्रशासन के फैसले के बारे में पूछा गया था तो उन्होंने कहा था हालात के अनुसार निर्णय लिया जाएगा।
अब जब कि कोरोना के हालात पिछले साल से भी ज्यादा खराब हो गए हैं तो प्रशासन ने लगातार दूसरे साल कैंची मेले को आयोजित न करने की सलाह दी है।

कैंची धाम नीम करौली बाबा धाम में हर साल 15 जून में लगने वाले मेले पर इस बार भी संकट के बादल मंडरा गए हैं। नैनीताल जिले के भवाली नगर के करीब स्थित नीम करौली बाबा के कैंची धाम में पिछले साल मेला नहीं लग पाया था।
आपको बता दें कि हर वर्ष प्रतिष्ठा दिवस के अवसर पर कैंची धाम में मेले का आयोजन किया जाता है। जिसमें देश के हर प्रांत से भक्तजन यहां पहुंचते थे। मेले को लेकर भक्तों मे काफी उत्साह बना रहता था। इतना ही नही इस मेले में विदेशों से भी कई भक्त आते थे। विगत वर्ष कोरोना के कारण मंदिर में प्रवेश बंद था, लेकिन इस बार लोगों को उम्मीद थी कि बाबा दरबार में सेवा करने मौका मिलेगा।

मानवी कुकशाल

झारखंड के सीएम का सांसदों के साथ संवाद

Listen to this article

सीएम हेमंत सोरेन ने दक्षिणी छोटानागपुर प्रमंडल के सांसदों के साथ संवाद किया। उन्होंने सभी से कोविड के संक्रमण को रोकने संबंधी राय मांगी। इस पर लगभग सभी सांसदों ने निजी अस्पतालों के मनमानी की जिक्र की। धनबाद के सांसद पीएन सिंह ने कहा कि यहां के निजी अस्पताल सरकार के निर्देशों का पालन नहीं कर रहे हैं।

10 दिन के इलाज का मरीजों से दो-तीन लाख रुपए बिल बसूला जा रहा है। सांसदों ने कहा कि केवल फीस में ही नहीं इलाज में भी निजी अस्पताल लापरवाही कर रहे हैं। वे पैसा कमाने के लिए मनमाना कोविड बेड तो बना लेते हैं लेकिन उनके पास न ही मेडिकल स्टाफ होते हैं और न ही बेड। इसका खामियाजा मरीजों को भुगतना पड़ता है।

मेडिकल काउंसिल बना कर आंकड़ों का करें विश्लेषण

सांसद जयंत चौधरी ने बताया कि सरकार की तरफ से जारी होने वाले आंकड़ों में काफी खामिया रहती है। उन्होंने बताया कि विशेषज्ञों की एक टीम बनाकर डेटा के अध्ययन करने की जरूरत है। यही टीम रोज राज्य भर के आंकड़ों जानकारी मीडिया को दे ताकि जनता को सही जानकारी मिल सके। उन्होंने कहा कि कोरोना की इस लड़ाई में जनता को जागरुक करना बेहद जरूरी है।
प्रभारी मंत्री का जिले में नहीं होता है दर्शन
सांसदों की एक शिकायत प्रभारी मंत्री को लेकर भी दिखी। धनबाद सांसद ने कहा कि हर जिले के लिए एक प्रभारी मंत्री बनाए गए हैं लेकिन विपदा के इस काल में वे जिले में दर्शन ही नहीं देते हैं। उन्होंने कहा कि धनबाद की जिम्मेदारी खुद स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता के पास है लेकिन वे अभी तक यहां एक भी बैठक नहीं किए हैं।

शिवानी माजिला

हिमाचल प्रदेश में सिलेंडर फटने से लगी भीषण आग

Listen to this article

हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के करसोग की ग्राम पंचायत थाच थर्मी के कमांद गांव में सिलेंडर फटने से 4 कमरों का मकान जलकर राख हो गया। अग्निकांड में मकान मालिक की जिंदा जलने से मौत हो गई है। ग्रामीणों ने आग बुझाने का भरकस प्रयास किया, लेकिन लपटें बेहद विकराल थीं।
मृतक की पहचान घर के मालिक झाँसीलाल (52) पुत्र स्वर्गीय कुंदी लाल के रूप में हुई। फायर बिग्रेड की गाड़ियों ने घटनास्थल पर पहुंचकर आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक पूरा मकान जलकर राख हो चुका था। इस मकान में झांसी लाल अकेला ही रहता था। उसका परिवार दूसरे मकान में रहते थे।
घटनास्थल पर पहुंचे तहसीलदार ने पीड़ित परिवार को फौरी तौर पर 15 हजार की राशि जारी कर दी है। तहसीलदार राजेंद्र ठाकुर ने घटना की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि प्रारंभिक सूचना है कि सिलेंडर फटने से आग लगी है। नुकसान का आकलन किया जा रहा है।

शिवानी माजिला

CLOUD BURST IN DEVPRAYAG

देवप्रयाग में बादल फटा, ITI की तीन मंजिला बिल्डिंग ध्वस्त

Listen to this article

उत्तराखंड के देवप्रयाग में बादल फटने से शांता नदी मे आए उफान से नगर के शांति बाजार मे तबाही आ गई। यहां स्थित आईटीआई का तीन मंजिला भवन पूरी तरह ध्वस्त हो गया। जबकि शांता नदी से सटी दस से अधिक दुकानें भी बह गईं। देवप्रयाग नगर से बस अड्डे की ओर आने वाला रास्ता और पुलिया पूरी तरह से बह गया। मलबे में किसी के दबने को लेकर अभी स्थिति साफ नहीं हो पाई है।

हालांकि कोरोना कर्फ्यू के कारण आई टी आई सहित तमाम दुकानों के बन्द रहने से भारी जान माल का नुकसान नहीं हुआ है। बता दें मंगलवार शाम करीब चार बजे दशरथ पहाड़ पर बादल फटने से यहां से निकलने वाली शांता नदी में उफान आ गया। बस अड्डे से शांति बाजार होकर शांता नदी भागीरथी में मिलती है। उफान के साथ आये भारी बोल्डरों ने यहाँ शांति बाजार में तबाही मचा दी। यहां मौजूद आई टी आई की तीन मंजिला बिल्डिंग इसकी जद में आ गयी। यहाँ मौजूद सुरक्षाकर्मी दीवान सिह ने कूद कर अपनी जान बचाई।

 

कोरोना कर्फ्यू न होता तो होती बड़ी जनहानि

बाजार में कम्प्यूटर सेंटर, बैंक, बिजली, फोटो आदि की दुकानें भी ध्वस्त हो गयी। उधर शांता नदी पर बनी पुलिया ,रास्ता सहित उससे सटी ज्वैलर्स, कपड़े, मिठाई आदि की दुकाने भी उफान की भेट चढ़ गयी। शांति बाजार में लगभग करोडो के नुकसान अनुमान लगाया जा रहा है। पुलिस को यहां अभी तक किसी के हताहत होने की सूचना नही है। अगर कोरोना कर्फ्यू की स्थिति नही होती तो यहां बड़ी संख्या में जन हानि हो सकती थी।

यह भी पढ़े- उत्तराखंड में दूसरे राज्यों से सप्लाई हो रही है ऑक्सीजन

कोरोना काल में गरीबों की मुसीबतें बढ़ती जा रही है

Listen to this article

कोरोनाकाल में गरीब तबके की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पहले ही लॉकडाउन के चलते ज्यादातर लोग बेरोजगार हो चुके हैं। थोड़ी बहुत जमापूंजी से जो लोग अपना परिवार पाल रहे हैं वह भी बैंकों की मनमानी से परेशान है। बैंक से रुपये न निकलने से परेशान ऐसी ही भीड़ ने आज सौरिख में जाम लगा दिया।

कन्नौज के सौरिख नगर की बैंक आफ इंडिया शाखा के खाताधारक कई दिनों से रुपये न निकलने परेशान हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के यह खाताधारक जनता कर्फ्यू में अपनी जमापूंजी निकालने कई दिन से बैंक आ रहे हैं, लेकिन बैंक कर्मचारी उन्हें कोई न कोई बहाना बनाकर रोज वापस कर देते हैं। आज जब परेशान खाताधारक बैक पहुंचे तो भीड़ देख बैंक सुरक्षाकर्मियों मेनगेट ही बंद कर दिया। गेट बंद होने से आक्रोशित खाताधारकों ने सौरिख छिबरामऊ रोड जाम कर दिया। जाम की सूचना पर पहुंची पुलिस भीड़ को समझाने में जुटी हुई है।

 

– मीना छेत्री

 

यह भी पढ़े- उत्तराखंड में दूसरे राज्यों से सप्लाई हो रही है ऑक्सीजन

कार हादसे में आप और कांग्रेस नेता समेत एक की मौत

Listen to this article

पंजाब के फतेहगढ़ साहिब में सोमवार देर रात एक हादसे में 3 लोगों की मौत हो गई। हादसा उस वक्त हुआ, जब AAP और कांग्रेस के एक-एक नेता अपने तीसरे दोस्त के साथ किसी कााम से चंडीगढ़ जा रहे थे। अचानक उनकी कार की एक ट्रक के साथ हो गई। हादसे के बाद कार ट्रक के नीचे जा घुसी। पता चलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने कार की बॉडी को तोड़कर तीनों को बाहर निकाला।

दो की मौके पर ही मौत हो गई, वही तीसरे ने अस्पताल ले जाने के बाद दम तोड़ दिया। मृतकों की पहचान संगरूर जिले के धूरी निवासी संदीप सिंगला, मनदीप सिंह ढींढसा और लुधियाना के विजय अग्निहोत्री उर्फ गोल्डी के रूप में हुई है। इनमें संदीप सिंगला आम आदमी पार्टी (AAP) की ट्रेड विंग के पदेश उपाध्यक्ष थे, वहीं विजय अग्निहोत्री कांग्रेस नेता थे। पता चला है कि तीनों सोमवार देर रात किसी काम के चलते लुधियाना से चंडीगढ़ जा रहे थे।

देर रात हुआ हादसा
करीब साढ़े 12 बजे लुधियाना-खरड़ नेशनल हाईवे पर फतेहगढ़ साहिब जिले के गांव राणवां के महेशपुरा T-प्वाइंट के पास इनकी कार रॉन्ग साइड से आ रहे एक ट्रक के नीचे घुस गई। इस बारे में खमाणों के थाना प्रभारी हरमिंदर सिंह ने बताया कि हादसे के बाद ट्रक चालक मौके से फरार हो गया है। ट्रक को कब्जे में लेकर चालक की तलाश की जा रही है। वहीं पोस्टमॉर्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए जाएंगे।

-शिवानी माजिला

 

यह भी पढ़े-ऑक्सीजन प्लांट अचानक फेल होने से कोरोना मरीजों की अटकी सांसें