राजनीतिराष्ट्रीयहोम

अबू आजमी ने गोंडा दौरे में सत्ता पक्ष के कार्यों पर किए सवाल

सांप्रदायिकता फैलाने वालों को निकालाना है

समाजवादी पार्टी के महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष अबू आजमी ने बीते दिन गोंडा दौरे में मीडिया से वार्ता में बीजेपी सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि प्रदेश व देश में साप्रदायिकता फैला कर केवल मजहब के नाम पर बांट कर राजनीति करने वाले लोगों के राज में महंगाई, भुखमरी, गुंडागर्दी बढ़ गई तथा औरतों का सड़कों पर चलना मुश्किल हो गया है। अबू आजमी ने सपा की सरकार लाने तथा धर्म भेद फैलाने वालों को निकालने कि बात करते हुए कहा बीजेपी-आर एसएस बजरंग दल के समूह का देश की आजादी में योगदान न होने पर भी आज गद्दी पर बैठकर गांधी जी के कातिल नाथूराम गोडसे को क्रांतिकारी बोलकर देश का संविधान तोड़ना चाहते हैं। बीजेपी के लोग यूपी में अन डीक्लियर कर्फ्यू लगा कर सरकार के खिलाफ बोलने वालो को जेल भेज रहें हैं। जिन्ना को मुसलमान पसंद नहीं करते क्योंकि उसने  इस देश का बंटवारा करने के साथ हिंदू मुस्लिम की एकता को बांटने का काम किया है और देश का एक भी मुसलमान जिन्ना के साथ नहीं है। यह भी पढ़ें- 2022 चुनाव के लिए कांग्रेस जल्द प्रत्याशियों की सूची घोषित करेगी

बीजेपी को है सत्ता खोने का डर

अबू अजमी ने कहा जो सरकार बेकार व नकारा होती है वह मंदिर मस्जिद का मुद्दा लेकर हिंदू-मुस्लिम करती है यह सरकार का नहीं पुजारियों का काम है साथ ही लाल टोपी से बीजेपी को डर लग रहा है। यह क्रांतिकारी टोपी कि बात काली टोपी वाले क्या करेंगे  उनकी बहस करने कि तैयारी से बीजेपी सत्त खोने का भय है। जिस तरह 700 किसानों ने शहादत का जाम पीकर भी 11 महीने से सरकार घुटने नहीं टेक रही थी लेकिन अखिलेश यादव की भीड़ को देखने के बाद कृषि कानूनों को वापस ले लिया।

अबूल आजमी ने पीएम को कहा सबसे बड़ा झूठा

अजमी आगे कहा कि योगी आदित्यनाथ से अधिक धार्मिक अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव हैं  उन्हें धर्म सिखाने की जरूरत नहीं है। उन्होंने पीएम मोदी को देश के सबसे बड़े झूठा कहते हुए कहा कि 15-15 लाख रुपए की बात जुमले वाली बात हो गई। चुवानी राज्यों में राशन दुगना कर दिए और जहां चुनाव नहीं है वहां राशन बंद कर दिए हैं तो क्या राशन बांट कर चुनाव जीतना चाहते हैं। अंजली सजवाण

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button