HNN Shortsदेश-विदेशहोम

कांग्रेस करेगी कोविड पीड़ितों के लिए मुआवजे की मांग

केंद्र को पत्र लिखकर मुआवजे की मांग

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से शुरु होने वाला है। जिसमें विभिन्न प्रकार के मुद्दे उठाए जाएंगे। वहीं गुरुवार को इस सत्र में उठाए जाने वाले मुद्दों के बारे में चर्चा करने के लिए कांग्रेस पार्टी के संसदीय रणनीति समूह की बैठक होगी। यह बैठक अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर होगी।

बता दें कि यह बात सोमवार को कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने समाचार एजेंसी एएनआई से वार्तालब के समय बताई। उन्होंने कहना था कि, वह संसद के शीतकाल सत्र में महंगाई का मुद्दा उठाएंगे। साथ ही कोरोना से मरने वालों के परिजनों को चार लाख रुपये का मुआवजा देने की बात भी कहेंगे और इस पर चर्चा करने के लिए 25 नवंबर को संसदीय रणनीति समूह की बैठक नई दिल्ली में होगी।

उनका कहना था कि, कांग्रेस केवल संसद के शीतकालीन सत्र में ही नहीं बल्कि सार्वजनिक मंचों पर भी कोरोना प्रबंधन का मुद्दा उठाने की योजना बना रही है। जानकारी के अनुसार कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री केंद्र की मोदी सरकार को पत्र के माध्यम से कोरोना पीड़ितों को मुआवजा प्रदान करने की मांग कर रहे हैं। हर राज्य के कांग्रेस विधायक दल(सीएलपी) के नेता भी जिन राज्यों में कांग्रेस सत्ता में नहीं है उन राज्यों में अपने-अपने मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखेंगे।

महाराष्ट्र सीएलपी ने सीएम ठाकरे को लिखा पत्र

महाराष्ट्र सीएलपी ने बीते बुधवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र के माध्यम से राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण(एनडीएमए) के मानदंडों के अनुसार कोविड से पीड़ितों के परिवारों के लिए एक लाख रुपये और कोविड से मरने वालों के परिवारों के लिए तीन लाख रुपये देन के आग्रह किया। सीएलपी नेता का कहना है कि, राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल(एसडीआरएफ) के पैमाने के आधार पर चार लाख में से केंद्र सरकार को 75 प्रतिशत का भुगतान करना चाहिए। वहीं बकाया 25 प्रतिशत राज्य को करनी चाहिए।

यह भी पढ़ें- हल्द्वानी और रामनगर की ट्रैफिक लाइट बनी शोपीस

कांग्रेस के मुद्दों पर राहुल का ट्वीट

इस मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बुधावार को आपने ट्वीट के माध्यम से कहा कि, पार्टी की दो मांगे हैं। पहली, कोरोना से मरने वाले को के सही आंकड़े सामने लाए जाएं और दूसरी  कोरोना के दौरान अपने परिवार के स्दस्यों को खोने वालों को चार लाख का मुआवजा मिलना चाहिए। उन्होनें आगे लिखा कि, सरकार हो तो जनता का दुख दूर करना होगा।

अंजली सजवाण 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button