उत्तराखंडहोम

सरकारी तालाबों को अतिक्रमण मुक्त कराने की कार्यवाही जारी

यूपी से सटे खटीमा के मझोला गांव में हाईकोर्ट के आदेश के क्रम में सरकारी तालाबों से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही में प्रशासन द्वारा तीन मकानों को ध्वस्त किया गया। आपको बता दें कि खटीमा प्रशासन द्वारा सरकारी तालाबों से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई में सख्ती से जुट गया है। इसी क्रम में बुधवार को मझोला गांव में सरकारी तालाबों को पाटकर कर बनाए गए मकानों को प्रशासन द्वारा ध्वस्त करने की कार्रवाई शुरू की गई। इस दौरान प्रशासन को स्थानीय ग्रामीणों का तीखा नोक झोंक और विरोध भी झेलना पड़ा।

प्रथम दिन तीन मकानों को ध्वस्त किया गया तथा अन्य अतिक्रमणकारियों को मकान खाली करने के निर्देश दिए गए। गौरतलब है कि सरकारी तालाबों से अतिक्रमण हटाने के लिए 10 परिवारों को 15 दिन पहले नोटिस जारी कर सूचना दी गई थी। इसी क्रम में प्रशासन और भारी पुलिस बल के साथ अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की गई की गई जिससे गांव में हड़कंप मच गया।

यह भी पढ़ें-वनाग्नि को रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाने के डीएम ने दिए निर्देश

वहीं अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान ग्रामीण अपने घरेलू सामानों को सड़क पर रखने को मजबूर हुए। खटीमा तहसीलदार शुभांगिनी ने बताया कि हाईकोर्ट के आदेश के मद्देनजर मझोला में सरकारी तालाबों पर बनाए गए मकानों में से तीन मकानों को ध्वस्त कर दिया गया शेष अन्य मकान स्वामियों को सामान हटाने की हिदायत दी गई। उन्होंने बताया कि कुल 31 सरकारी तालाब हैं जो भी अतिक्रमण युक्त तालाब हैं उनको जल्द से जल्द अतिक्रमण मुक्त कराने का प्रयास किया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button