राष्ट्रीयहोम

विशेषज्ञों को सताई कोरोना से ज्यादा लू की चिंता

वैज्ञानिकों ने इस प्रचंड मौसम का कारण जलवायु परिवर्तन बताया है। डॉक्टरों का कहना है कि फिलहाल कोरोना की संभावित चौथी लहर से ज्यादा चिंता की बात लू है। वैज्ञानीको की माने तो आने वाले चार से पांच दिनों में तापमान और भी अधिक रहने वाला है, इसका मतलब हैं कि गर्मी अभी और अधीक होने वाली हैं। दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश समेत देश के कई राज्यों में गर्मी से बुरा हाल हैं। यहा कई जिलों में पारा 45 डिग्री से भी ऊपर पहुंच गया हैं।

भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, हीट वेव से फिलहाल राहत नहीं मिलती दिख रही है। पश्रि्मी राजस्थान में इसका कहर जारी रहेगा। वही मध्य प्रदेश और साथ में पंजाब,हरियाणा,चंडीगढ़,पश्रच्मिमी उत्तर प्रदेश में रहेगा। बिहार, पश्रच्मिी बंगाल ,छत्तीसगढ़, गुजरात,महाराष्ट्र में भी हीट वेव से राहत नहीं मिलेगी। उत्तराखंड में पारा 40 डिग्री तक पहुंच सकता है। गुजरात में पारा 45 डिग्री तक जाएगा।

वहीं मध्य प्रदेश में अधिकतम तापमान 43 डिग्री रहने की संभावना है। बिहार में पारा 39 डिग्री तक पहुचं सकता है। लोग गर्मी के कारण ज्यादा बिमार पड़ रहें हैं। धर, दिल्ली स्थित मौसम विभाग कहा है कि अगले तीन दिनों तक प्रचंड गर्मी का प्रकोप जारी रहेगा। मौसम विभाग ने आज के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

यह भी पढे़ं- उत्तराखंड: चारधाम यात्रा के लिए कोरोना टेस्ट जरूरी

मौसम वैज्ञानिकों का मानना है कि इस साल अप्रैल के महीने में बारिश बिल्कुल भी नहीं हुई है।वैसे मार्च-अप्रैल में हल्की बारिश होती थी, जिसके कारण तापमाव में कमी आती थी। लेकीन इस बार मार्च से लेकर अब तक औसत बारिश में 87 फीसदी की कमी देखने को मिली है। यही कारण है कि होली के बाद से तापमान लगातार बढ़ता जा रहा हैं।

प्रिया चाँदना

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button