HNN Shortsउत्तराखंडबड़ी खबरहोम

उत्तराखंड में आधी रात को घर में घुसे 12 डकैत, महिलाओं को पीटा

उत्तराखंड के ऊधमसिंहनगर जिले से सनसनी मचा देने वाली खबर मिली है। ठेके पर लिए गए स्टोन क्रशर के लेनदेन के विवाद को लेकर आधी रात बाजपुर ब्लॉक के कनिष्ठ उप प्रमुख तजिंदर सिंह जंटू और हल्द्वानी-बाजपुर बस यूनियन के अध्यक्ष नेत्रपाल शर्मा के गुट आमने-सामने आ गए।

पिपलिया गांव में दोनों पक्षों के बीच करीब 50 राउंड गोलियां चलने से एक व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई और कनिष्ठ उप प्रमुख तजिंदर सिंह जंटू समेत एक ही पक्ष के तीन लोग घायल हो गए। घायलों को हायर सेंटर रेफर किया गया है। पुलिस ने तजिंदर की तहरीर पर हत्या और शर्मा पक्ष की तहरीर पर डकैती की धाराओं में मुकदमे दर्ज कर लिए हैं। इनमें एक पक्ष से एक और दूसरे पक्ष से चार लोग नामजद किए गए हैं।

पुलिस के अनुसार देर रात करीब 12 बजे कनिष्ठ उप प्रमुख तजिंदर सिंह जंटू अपने दस-बारह अन्य साथियों को लेकर सुल्तानपुर पट्टी के गांव पिपलिया निवासी नेत्रपाल शर्मा के आवास पर गए। वहां लेनदेन को लेकर उनके बीच कहासुनी हो गई। इस पर दोनों ओर से हथियार निकल आए। देखते ही देखते दोनों तरफ से ताबड़तोड़ फायरिंग होने लगी। गोली लगने से कनिष्ठ उपप्रमुख के साथ आए मिलक खानम (रामपुर) निवासी कुलवंत सिंह की मौके पर ही मौत हो गई जबकि तजिंदर सिंह, मोहित अग्रवाल, हरप्रीत सिंह घायल हो गए। गोली चलने की सूचना पर बाजपुर, केलाखेड़ा, सुल्तानपुरपट्टी आदि क्षेत्रों की पुलिस के साथ ही एसपी चंद मोहन, सीओ वंदना वर्मा, कोतवाल प्रवीण कोश्यारी, चौकी इंचार्ज प्रकाश कोहली मौके पर पहुंच गए। घायलों को बाजपुर सीएचसी लाया गया।

प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने उनको हायर सेंटर रेफर कर दिया। पुलिस ने कुलवंत का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया। एसपी चंद्रमोहन ने बताया कि एक पक्ष की तहरीर पर चार लोगों के खिलाफ हत्या और जानलेवा हमले का मुकदमा दर्ज कराया गया है, जबकि दूसरे पक्ष की तहरीर पर डकैती की रिपोर्ट दर्ज की गई है।

यह भी पढे- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 3 दिवसीय दौरे पर आएंगे उत्तराखंड

कनिष्ठ उपप्रमुख तजिंदर सिंह जंटू ने पुलिस को दी तहरीर में कहा कि मंगलवार देर रात एक करोड़ 80 लाख रुपये के लेनदेन के लिए नेत्रपाल शर्मा के बुलावे पर उनके घर गए थे। गेट खुलते ही नेत्रपाल शर्मा और उसके समर्थकों ने फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगने से कुलवंत सिंह की मौत हो गई और वह (तजिंदर) और उसके दो साथी घायल हो गए। तहरीर पर पुलिस ने नेत्रपाल शर्मा, दर्पण शर्मा, रविंदर शर्मा व अनिरुद्ध शर्मा और 5-6 अन्य के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button