Uncategorized

पेन्ना नदी उफान पर आंध्र प्रदेश में टूटा यातायाता संपर्क

एक्सप्रेस ट्रेनें भी हुई रद्द

आंध्र प्रदेश में पिछले कई दिनों से लगातार भारी बारिश के कारण कई जिलों में बाढ़ के आसार बन गए हैं। पेन्ना नदी भी उफान पर है जिसके कारण तबाही मच गई है, राज्य को जोड़ने वाले दक्षिण एवं पूर्व के मुख्य रेल और सड़क मार्ग से संपर्क रविवार को टूट गया । ऐसी बारिश व बाढ़ के कारण कई लोगों के लापता होने और 20 से ज्यादा लोगों कि जान जाने की खबर सामने आई है। इसके चलते राज्य में बचाव कार्य पूरे ज़ोर पर है।

एसपीएस नेल्लोर जिले में चेन्नई-कोलकाता राष्ट्रीय राजमार्ग को पाडुगुपाडु में सड़क में पानी भरने के कारण यातायात के लिए बंद करना पड़ा। पाडुगुपाडु में बाढ़ का पानी पटरियों तक पहुंच गया जिसके कारण चेन्नई-विजयवाड़ा मार्ग पर कम से कम 17 एक्सप्रेस ट्रेनों को रद्द किया तथा तीन अन्य ट्रेनों को आंशिक रुप से स्थगित किया गया या उनके मार्ग में परिवर्तन लाया गया ।

कोवुरु में राष्ट्रीय राजमार्ग-16 भी किया बंद

आंध्र प्रदेश के आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने जानकारी दी कि एसपीएस नेल्लोर जिले में सोमासिला जलाशय से दो लाख क्यूसेक से अधिक बाढ़ का पानी बहने के कारण कोवुरु में राष्ट्रीय राजमार्ग-16 भी बंद हो गया है, जिसके कारण नेल्लोर और विजयवाड़ा के बीच एनएच-16 से आवन-जावन पर रोक लगा दी गई है। मार्ग बंद होने के कारण सैकड़ो वाहन फंस गए और बस सेवाएं बंद होने से बस स्टेशन पर बहुत सारे यात्री फंस गए।

कड़पा जिले तीन मंजिला इमारत ढह गई

अधिकारियों के अनुसार वेलिगल्लू जलाशय से बाढ़ आने कारण कड़पा जिले में पपाग्नी नदी उपर स्थित पुल कमलापुरम में ढह गया जिससे कड़पा और अनंतपुरमु जिलों के मध्य सड़क संपर्क टूट गया। श्रीकालहस्ती से आगामी वाहनों को टोट्टेमबेडु जांच चौकी पर रेक और उनका रास्ता पामुरु तथा दारसी के माध्यम से बदला गया।

रविवार सुबह कड़पा में तीन मंजिला इमारत ढहने से दूसरी मंजिल पर फंसे एक मां और बच्चा फंस गए थे जिन्हे पुलिस तथा दमकल कर्मियों ने बचा लिया राहत की बात है कि कोई भारी नुकसान नहीं हुए क्योंकि घटना से कुछ समय पहले उसमें रहने वाले लोग सुक्षित बाहर निकल गए थे।

अंजली सजवाण  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button