उत्तराखंडक्राइमहोम

ताबड़तोड़ चोरी की वारदाद को अंजाम देने वाले दो मास्टर माइंट चोर गिरफ्तार

मुखानी थाना पुलिस को बालम सिंह धौनी, डां० रितु सिंह व आनन्द सिंह बिष्ट ने विभिन्न दिनांको में अज्ञात चोरों के खिलाफ चोरी की घटना को अंजाम देने की तहरीर सौपी थी, जिसमें थाना मुखानी पुलिस संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल पंकज भट्ट के द्वारा उक्त चोरी के घटित घटनाओं के अनावरण एवं आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी करने हेतु अपर पुलिस अधीक्षक हल्द्वानी, क्षेत्राधिकारी हल्द्वानी, थानाध्यक्ष मुखानी को निर्देशित किया गया। वही अपर पुलिस अधीक्ष हल्द्वानी हरवन्स सिंह, क्षेत्राधिकारी हल्द्वानी भूपेन्द्र सिंह धौनी के कुशल पर्यवेक्षण में थानाध्यक्ष मुखानी दीपक बिष्ट के नेतृत्व में क्षेत्रों में हुई चोरियों के खुलासे करने हेतु तीन टीमों का गठन किया गया। वही प्रथम टीम द्वारा सी.सी.टी.वी. कैमरों का अवलोकन किया गया। द्वितीय सर्विलांस टीम द्वारा घटनास्थलों के आस-पास का डाटा डम्प एकत्रित किया गया। तथा तृतीय टीम द्वारा चोरी की घटनाओं में सलिप्त व्यक्तियों की तलाश करने व पतारसी – सुरागरसी हेतु लगाया गया। उपरोक्त घटना के अनावरण में पुलिस टीम द्वारा लगभग क्षेत्र के 200 से अधिक सी.सी.टी.वी फुटेजों का अवलोकन के दौरान चोरी की घटना में संलिप्त कुछ संदिग्ध प्रकाश में आये जिनकी तत्काल गिरफ्तारी व चोरी का माल बरामदगी हेतु तेजी से सुरागरसी पतारसी करते हुए पुलिस टीम के द्वारा 02 व्यक्तिय सैय्यद मौ० एहसान पुत्र स्व0 मौ० सैय्यद उसमान निवासी खदरा थाना हसनगंज लखनऊ उम्र 28 वर्ष व कासिम पुत्र कादीर निवासी भदेवा थाना थानगाँव सीतापुर जनपद सीतापुर उम्र 22 वर्ष को आज कालाढूंगी रोड भाखडापुल के पास से आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। एसएससी पंकज भट्ट ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपियों द्वारा बताया गया कि इनके द्वारा मुखानी, हल्द्वानी आदि क्षेत्रों में चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया गया है। इनके द्वारा दिन के समय बन्द घरों के ताले एवं रात्रि समय 9.00 बजे से 11.00 बजे के बीच जिन घरों में लाईट बन्द रहती है उनकी रैंकी की जाती है, तथा रात्रि 1.00 से 1.30 बजे के बीच इनके द्वारा बन्द घरों के तालों को तोड़ने के लिये 1 फीट से डेढ़ फीट की सरिया का इस्तेमाल तालों को तोड़ने के लिये किया जाता है। तथा लौकर को तोड़ने के लिये पेचकस का इस्तेमाल किया जाता है। चोरी करने के दौरान इनके द्वारा नकदी तथा ज्वैलरी व जिन घरों में सी.सी.टी.बी लगे रहते हैं उसकी डी.बी.आर चोरी की जाती है। यह भी पढ़ें-राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद  दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे उत्तराखंड पुलिस टीम में थानाध्यक्ष मुखानी दीपक सिंह बिष्ट, एसओजी प्रभारी नंदन सिंह रावत, उपनिरीक्षक संजय कुमार, उप निरीक्षक कृष्णागिरी, किशन सिंह सर्विलेंस, कॉन्स्टेबल नरेंद्र राणा, कांस्टेबल चंदन सिंह नेगी, कांस्टेबल जितेंद्र कुमार, कांस्टेबल वीरेंद्र चौहान, कॉन्स्टेबल ललित सती, कॉन्स्टेबल एसओजी अनिल गिरी, कॉन्स्टेबल एसओजी त्रिलोक सिंह, कॉन्स्टेबल एसओजी अशोक रावत, कॉन्स्टेबल एसओजी इसरार नबी, कॉन्स्टेबल एसओजी इसरार अहमद शामिल रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button